Home » साइंस-टेक » Google new messaging app to counter Facebook-WhatsApp
 

हैंग आउट्स की असफलता के बाद अब गूगल ला रहा है एक नया मैसेजिंग ऐप

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 February 2017, 1:47 IST

जी टॉक और हैंग आउट्स जैसे गूगल एप्लीकेशन तमाम फीचर्स के बावजूद ज्यादा लोगों को अपने साथ नहीं जोड़ सके. अब गूगल स्टोर से खबर आ रही है कि कि वह नए मैसेजिंग-चैटिंग ऐप पर काम कर रहा है. इसकी सबसे बड़ी खासियत इसकी खुद की सोच यानी ऑर्टिफिशियल इंटेलीजेंस होगी. जो हर वक्त आपको मैसेज लिखने से निजात दिलाने में मददगार साबित होगी.

वाॅल स्ट्रीट जर्नल में छपी एक खबर के अनुसार गूगल अपने नए मैसेजिंग ऐप पर काम कर रहा है. इस ऐप में आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस के जरिए ऐप का इनबिल्ट फीचर खुद ब खुद आपको जवाब दे देगा.

इससे पहले सोशल मीडिया दिग्गज फेसबुक ने अपने मैसेंजर के लिए एम फीचर की शुरुआत की थी. इसमें किसी सवाल का जवाब लिख कर मांगा जा सकता है. हालांकि डेवलपिंग स्टेज में होने के कारण आम यूजर्स इस फीचर का इस्तेमाल नहीं कर पा रहे हैं.

खबरें यह भी हैं कि गूगल का अगला मैसेजिंग ऐप अपनी पिछली तमाम कमियों से मुक्त और बेहद सक्षम होगा. इस एप का इस्तेमाल करने वाले यूजर्स के सवालों का जवाब गूगल का बोट (स्वतः जवाब देने वाला सिस्टम) देगा. लेकिन गूगल ने अभी इसके आधिकारिक लॉन्च की तारीख घोषित नहीं की है. यूजर्स इसका कब इस्तेमाल कर पाएंगे इसका खुलासा नहीं हो सका है.

तुरंत मिलेगा सटीक जवाब

इस मैसेजिंग ऐप में आप मैसेज करके गूगल बोट से सवाल पूछ सकते हैं. उदाहरण के तौर पर आप मौसम की जानकारी के बारे में पूछेंगे और यह जानकारी मैसेज के रूप में आपके पास पहुंच जाएगी. यह वैसे ही काम करेगा, जैसे हम दोस्तों से चैटिंग करते हैं.

वाॅल स्ट्रीट जर्नल की रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि गूगल इसके लिए दूसरे डेवलपर्स को भी चैटबोट्स डेवलप करने के लिए कहेगा और तमाम चैटबोट्स को अपने नए मैसेजिंग एप से कनेक्ट करेगा ताकि इसे और बेहतरीन और प्रभावी बनाया जा सके.

फेसबुक को मिलेगी टक्कर

गौरतलब है फेसबुक के लोकप्रिय होने के बाद गूगल को अपनी सोशल नेटवर्किंग साइट ऑरकुट को बंद करना पड़ा था. इसके बाद गूगल ने फेसबुक को मात देने के मकसद से गूगल प्लस की शुरुआत की, पर वह यहां भी फेसबुक से पिछड़ गया. अब गूगल इस मैसेजिंग ऐप के सहारे फेसबुक से पुराना बदला चुकाने की तैयारी में हैं.

हालांकि इसके लॉन्च और इसके फीचर्स के बारे में फिलहाल ज्यादा जानकारी नहीं मिली है. गूगल अपने सर्च इंजन का यूज कर इस आर्टिफिशि‍यल इंटेलिजेंस बेस्ड मैसेजिंग ऐप को लाएगा तो लोगों के लिए अनोखा होगा, क्योंकि यह दुनिया का सबसे बड़ा सर्च इंजन है और इसके पास लगभग हर सवाल का जवाब है.

First published: 26 December 2015, 12:08 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी