Home » साइंस-टेक » Google Removed 22 Dangerous Apps From Play Store Know The Reason
 

Google ने Play Store से हटाए वायरस फैलाने वाले ये ऐप्स, आप भी कर दें अनइंस्टॉल

कैच ब्यूरो | Updated on: 9 December 2018, 15:02 IST

स्मार्टफोन में प्लेस्टोर से नए-नए ऐप्स डाउनलो किसे पसंद नहीं है, लेकिन कई बार इन ऐप्स में से कुछ ऐसे होते हैं जो आपके मोबाइल को हैंग कर सकते हैं. यानि इन ऐप्स की वजह से आपके मोबाइल में वायरस आ जाता है. गूगल ने ऐसे ही 22 ऐप्स को प्लेस्टोर से हटा दिया है.

ब्रिटेन की साइबर सिक्योरिटी कंपनी सोफोस ने इस ऐप्स में वायरस होने की बात कहते हुए एक ब्लॉग पर पोस्ट लिखी थी. इस कंपनी ने यह भी बताया था कि इन ऐप्स की वजह से यूजर्स के डेटा की बहुत ज्यादा खपत हो रही है. बता दें कि 22 में से 19 ऐप्स इसी साल जून में प्ले स्टोर पर आए थे. रिपोर्ट में बताया गया है कि इन ऐप्स को एंड्रॉयड यूज़र्स ने 2 मिलियन से ज्यादा बार डाउनलोड किया है.

सोफोस ने अपनी जांच में पाया कि ये ऐप्स Andr और Clickr ऐड नेटवर्क से जुड़ी हैं. आम भाषा में कहें तो ये ऐप्स ऐड नेटवर्क पर फेक क्लिक करके रिवेन्यू जेनरेट करते हैं और फेक रिक्वेस्ट भेजते हैं. बता दें कि Andr/Clickr एक संगठित मैलवेयर है जो एंड यूजर्स के साथ-साथ पूरे एंड्राइड इकोसिस्टम को बहुत ज्यादा नुकसान पहुंचाता है.

उधर गूगल ने पिछले हफ्ते अपने बयान में कहा, "हम अपने प्लेटफॉर्म पर धोखाधड़ी और दुर्भावनापूर्ण व्यवहार को बहुत ही गंभीरता से लेते हैं."

गूगल ने हटाए प्ले स्टोर से हटाए ये ऐप्स

गूगल ने जिन ऐप्स को वायरल फैलाने की वजह से प्ले स्टोर से हटाया है उनमें पार्केल फ्लैशलाइट, स्नेक अटैक, मैथ सॉलवर, शेप सॉर्टर, टेक अ ट्रिप, मैग्निफिये, जॉइन अप, ज़ॉम्बी किलर, स्पेस रॉकेट, नियॉन पॉन्ग, जस्ट फ्लैशलाइट, टेबल सॉसर, क्लिफ डाइवर, बॉक्स स्टैक, जेली स्लाइस, एके ब्लैकजैक, कलर टाइल्स, एनिमल मैच, रुलेट मेनिया, हेक्सा फॉल, हेक्सा ब्लॉक्स, पेयर ज़ैप शामिल हैं.

ये भी पढ़ें- अब वायरस से कम नहीं तेज होगी आपके कम्प्यूटर की स्पीड, मेमोरी में भी होगी बढ़ोतरी, जानिए कैसे

First published: 9 December 2018, 14:59 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी