Home » साइंस-टेक » Google's Gmail service will become more secure & warn users if there is any malicious link in email
 

जीमेल हुआ और सुरक्षितः खतरनाक लिंक होने पर देगा चेतावनी

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 February 2017, 1:47 IST

गूगल की ईमेल सेवा जीमेल और ज्यादा सुरक्षित होने जा रही है. इसके अंतर्गत अब आने वाला अपडेट एंड्रॉयड और वेब यूजर्स को जीमेल की किसी भी मेल में किसी मैलीसिअस या खतरनाक लिंक होने पर चेतावनी देगा.

गूगल के ऐप सिक्योरिटी ब्लॉग में इसकी जानकारी देते हुए बताया गया कि अगर किसी यूजर के जीमेल बॉक्स में भेजी गई ईमेल सेंडर पॉलिसी फ्रेमवर्क (एसपीएफ) या डीकेआईएम से स्वीकृत नहीं हो सकेगी तो चेतावनी दी जाएगी. यूजर्स को ईमेल भेजने वाले की फोटो, लोगों या अवतार के बगल में संभावित खतरे का ईशारा करता एक प्रश्नचिन्ह बना दिखाई देगा.

गूगल ब्लॉगपोस्ट में लिखा गया, "वेब में अगर आपको फिशिंग, मैलवेयर या अनचाहे सॉफ्टवेयर मुहैया कराने वाली वेबसाइट का लिंक मिलता है, तो जब आप उस लिंक पर क्लिक करेंगे तो आपको चेतावनी मिलने लगेगी." गूगल का कहना है कि आज उपब्ध तमाम वेब ब्राउजर्स में सुरक्षित ब्राउजिंग (सेफ ब्राउजिंग प्रोटेक्शन) के एक्सटेंशन स्वरूप यह चेतावनी दी जाती है.

जानिए कैसे खेल सकते हैं पीसी और मैक पर 'पोकेमॉन गो'

हालांकि ब्लॉगपोस्ट में यह भी बताया गया कि जरूरी नहीं है कि चेतावनी दी जाने वाली सभी ईमेल के लिंक खतरनाक हों लेकिन फिर भी यह यूजर्स से कहेगा कि जहां पर स्वीकृति सुनिश्चित न हो ऐसे लिंक वाले संदेशों के रिप्लाई में अतिरिक्त सावधानी बरतें. गूगल के मुताबिक शुरुआती अपडेट में इसकी पहुंच धीमे होगी लेकिन यह सभी यूजर्स को प्रभावित करेगा.

बता दें कि यूजर्स को सुरक्षित ईमेल सेवा प्रदान करने के लिए गूगल कोई न कोई नए अपडेट लाकर इसे सुरक्षित करता है. फिलहाल जीमेल दुनिया की सबसे ज्यादा इस्तेमाल की जाने वाली ईमेल सेवाओं में से एक है और इस साल इसने प्रतिमाह 100 करोड़ सक्रिय यूजर्स का आंकड़ा पार कर लिया है. 

First published: 12 August 2016, 4:18 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी