Home » साइंस-टेक » How to remove fog from car windscreen or clean/demist your car glass
 

जानिए कार के शीशों से भाप (फॉग) हटाने के 2 आसान घरेलू उपाय

अमित कुमार बाजपेयी | Updated on: 17 September 2016, 12:45 IST

कार चलाने वालों को कभी न कभी विंडस्क्रीन, विंडो स्क्रीन और रीयर स्क्रीन पर फॉगिंग (भाप जमने) की समस्या से जरूर दो चार होना पड़ता है. मौसम चाहे सर्दी का हो, गर्मी का या फिर बरसात का, यह दिक्कत कभी भी आ सकती है. साथ ही सर्दियों के मौसम में हेलमेट पहने दोपहिया चालकों के सामने भी यह समस्या आती है.

यह समस्या आने पर हर कार चालक एयरकंडीशनर के अलग-अलग मोड चेंज करता है, एयर इनटेक को इन आउट करता है, विंडो खोलता है और जब इन सबसे कुछ नहीं होता कार किनारे खड़ी करके शीशे पोछता है. भले ही कार चलाने वाले किसी भी तरीके को अपनाकर कुछ वक्त के लिए इस समस्या से पीछा छुड़ा लेते हों लेकिन हकीकत यह है कि अचानक सामने आने वाली यह समस्या मुश्किल जरूर पैदा कर देती है.

कार

 चलाते समय कभी न करें ये पांच गलतियां

कैच ने भी इस संबंध में कई कार चालकों और ऑटोमोबाइल विशेषज्ञों से बात की और इसके बाद कई चीजें खंगाली. तब जाकर इस परेशानी से निजात पाने के आसान तरीके पता चले. इसलिए अगर अगली बार से आप चाहते हैं कि कार के शीशों पर धुंध न जमे तो इन घरेलू उपायों को आजमा कर टेंशन फ्री रह सकते हैं.

वैसे बता दें कि जो कार चालक ज्यादा मेहनत नहीं करना चाहते और घरेलू उपाय आजमाने से कतराते हैं, उनके लिए ऑटोमोबाइल के अच्छे स्टोर्स के अलावा ऑनलाइन शॉपिंग पोर्टल्स पर 'एंटी कार फॉग' नाम की एक लिक्विड बॉटल मिलती है, जिसका एक कोट शीशों में लगाने पर इस समस्या से छुटकारा मिल जाता है.

जानिए एसी और 

कार

 साथ-साथ चलाने का सबसे किफायती तरीका

क्यों जमती है धुंध (फॉग)

अपने कार के शीशों या हेलमेट को धुंधरोधी बनाने से पहले जान लें कि कार के शीशों पर धुंध जमने का असल कारण क्या है? यह विज्ञान का बहुत आसान उदाहरण है. जब कार के भीतर और बाहर के तापमान में काफी अंतर होता है तो इसके बीच में हवा को रोकने वाले शीशे पर भाप (धुंध-फॉग) की पर्त जम जाती है.

जैसे, जाड़ों में बाहर का मौसम ज्यादा ठंडा होता है और कार के अंदर चालक व अन्य सवारियों के शरीर से निकलने वाली गर्मी के कारण तापमान बढ़ जाता है, परिणामस्वरूप हवा में मौजूद नमी शीशों पर भाप के रूप में जम जाती है और आर-पार देखने में बाधा डालती है.

गर्मियों-बरसात में जब बाहर का तापमान गर्म होता है और कार के अंदर चलता तेज एसी तापमान काफी कम कर देता है तो भी कार में मौजूद हवा की नमी ठंडी होकर भाप के रूप में शीशों पर जम जाती है.

अगर माइक्रोस्कोप से देखें तो शीशों पर जमी इस भाप में बहुत महीन-महीन पानी की बूंदें दिखाई देती हैं.

क्या हैं शीशे पर फॉग जमने से रोकने के घरेलू उपाय

शेविंग फोमः भले ही आपको यह बात चौंकाने वाली लगे लेकिन हकीकत यह है कि अगर आप अपनी कार के शीशों या हेलमेट के ग्लास पर अंदर की ओर से शेविंग फोम लगाने के बाद उसे पेपर टॉवल, टिश्यू आदि से अच्छे से साफ कर देते हैं, तो आपकी कार के शीशों में ऐसे मौसम में भाप नहीं जमेगी.

इसका कारण यह है कि शेविंग फोम कार के शीशों पर एक ऐसी अदृश्य पर्त बना देता है जिसपर पानी के महीन कण टिक नहीं पाते और भाप नहीं जमती है.

टूथपेस्टः बाजार में आने वाले सफेद टूथपेस्ट भी आपकी कार के शीशों के लिए एंटी फॉग कोटिंग का सस्ता और असरदार समाधान साबित हो सकते हैं. आपको केवल शीशों पर अंदर की तरफ से पहले हल्का सा टूथपेस्ट लगाना होता है और फिर उसे हल्के हाथों (ध्यान रखें क्योंकि टूथपेस्ट में महीन कण होते हैं जो शीशे को नुकसान पहुंचा सकते हैं, इसलिए हल्के हाथों से ही) शीशे पर फैलाएं. 

अगर आसानी से न हो तो थोड़ा पानी स्प्रे कर लें ताकि आसानी से टूथपेस्ट की पर्त चढ़ जाए और पेपर टॉवेल से पोछने के बाद आर-पार साफ नजर आए. बस काम हो गया और अब आप कहीं भी जा सकते हैं, शीशों पर फॉग नहीं जमेगा.

(नोटः ध्यान रखें कि ऑनलाइन और ऑफलाइन तमाम जगहों पर लोग कहते मिल जाएंगे कि आलू, प्याज, माउथ वॉश, हैंडवॉश, बेबी शैंपू, ऑयल, डिओडोरेंट, मॉयश्चराइजर समेत अन्य कई चीजों को लगाने से भी कार के शीशों पर फॉग नहीं जमती, लेकिन ऐसा होता नहीं है.)

First published: 17 September 2016, 12:45 IST
 
अमित कुमार बाजपेयी @amit_bajpai2000

पत्रकारिता में एक दशक से ज्यादा का अनुभव. ऑनलाइन और ऑफलाइन कारोबार, गैज़ेट वर्ल्ड, डिजिटल टेक्नोलॉजी, ऑटोमोबाइल, एजुकेशन पर पैनी नज़र रखते हैं. ग्रेटर नोएडा में हुई फार्मूला वन रेसिंग को लगातार दो साल कवर किया. एक्सपो मार्ट की शुरुआत से लेकर वहां होने वाली अंतरराष्ट्रीय प्रदर्शनियों-संगोष्ठियों की रिपोर्टिंग.

अगली कहानी