Home » साइंस-टेक » Idea Cellular, Vodafone to merge, create India's largest telcom company
 

रातों-रात एयरटेल को लगा झटका, बनीं दूसरे नंबर की टेलिकॉम कंपनी

कैच ब्यूरो | Updated on: 20 March 2017, 13:09 IST
Vodafone Idea

टेलीकॉम ऑपरेटर कंपनी वोडाफोन इंडिया और आइडिया सेल्युलर के विलय का आज ऐलान कर दिया गया. इस मर्जर के बाद यह देश का सबसे बड़ी टेलिकॉम ऑपरेटर बन पड़ेगा. इस मर्जर के बाद वोडाफोन के पास 45.1% की हिस्सेदारी रहेगी जबकि बाकी का 54.9% हिस्सा आइडिया के पास रहेगा. कंपनी ने यह बात एक बयान में कही.

विलय के एलान के बाद आइडिया सेल्युलर के शेयरों में 5% का उछाल देखा गया है. आइडिया के प्रमोटर्स के पास एकाधिकार होगा कि वह किसे चेयरपर्सन नियुक्त करते हैं. हालांकि सीईओ और सीओओ की नियुक्ति को लेकर दोनों प्रमोटर मिल कर फैसला लेंगे और दोनों की ही सहमति इसके लिए आवश्यक होगी. वायरलेस सब्सक्राइबर के लिहाज से फिलहाल वोडाफोन दूसरे और आइडिया तीसरे स्थान पर है जबकि भारतीय एयरटेल पहले नंबर पर है.

डील की मुख्य बातें:
आइडि‍या प्रोमोटर्स के पास अति‍रि‍क्‍त 9.5 फीसदी हि‍स्‍सेदारी लेने का अधि‍कार है.
प्रोमोटर्स 130 रुपए प्रति शेयर के हि‍साब से हि‍स्‍सेदारी ले सकते हैं.
चेयरमैन नि‍युक्‍त करने का अधि‍कार केवल आइडि‍या के प्रोमोटर्स के पास है.
वोडाफोन के पास नई कंपनी के सीएफओ को नि‍युक्‍त करने का अधि‍कार है.
मर्जर हुई कंपनी में वोडाफोन 50 फीसदी हि‍स्‍सेदारी ट्रांसफर करेगी.
मर्जर से पहले दोनों कंपनि‍यां स्‍टेंडअलोन टावर्स को बेचेंगी. 

First published: 20 March 2017, 12:47 IST
 
अगली कहानी