Home » साइंस-टेक » ISRO launches earth observation HysIS satellite that will help monitor pollution
 

ISRO ने फिर कर दिखाया ये कारनामा, पीएसएलवी के साथ भेजे आठ देशों के 30 उपग्रह

कैच ब्यूरो | Updated on: 29 November 2018, 11:16 IST

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन ने गुरुवार सुबह श्रीहरिकोटा में सतीश धवन स्पेस सेंटर से ध्रुवीय उपग्रह प्रक्षेपण यान को सफलतापूर्वक लॉन्च कर दिया. ISRO के अंतरिक्ष यान पीएसएलवी-सी43 के साथ आठ देशों के 30 उपग्रह भी प्रक्षेपित किए गए है. यह एक हाइपर स्पेक्ट्रल इमेजिंग ऑब्जर्वेशन उपग्रह है और इसकी पांच साल की मिशन अवधि है. यह ध्रुवीय उपग्रह प्रक्षेपण यान की 45वीं उड़ान थी.

ऑब्जर्वेशन उपग्रह के साथ मिशन में ऑस्ट्रेलिया, कनाडा, कोलंबिया, फिनलैंड, मलेशिया, नीदरलैंड्स, स्पेन और संयुक्त राज्य अमेरिका द्वारा विकसित 30 सूक्ष्म और नैनो-उपग्रहों को ले जाया गया. इनमें से 23 उपग्रह अकेले अमेरिका से हैं.

 

HysIS उपग्रह पृथ्वी की सतह से 636 किमी की ऊंचाई पर रखा जाएगा और एक ध्रुवीय तुल्यकालिक कक्षा में रखा जाएगा, जो इसे पृथ्वी के भौगोलिक उत्तर और दक्षिण ध्रुव के साथ चल रहे धुरी के साथ गति में स्थापित करेगा. अन्य उपग्रह 504 किमी की ऊंचाई पर लॉन्च किए जाएंगे.

उपग्रह का मुख्य उद्देश्य इलेक्ट्रोमैग्नेटिक स्पेक्ट्रम के दृश्यमान, निकट अवरक्त और शॉर्टवेव-अवरक्त क्षेत्रों में पृथ्वी की सतह का अध्ययन करना है. यह उद्योगों से प्रदूषण की निगरानी में मदद करेगा और कृषि, वानिकी, भूविज्ञान, तटीय क्षेत्र के अध्ययन और अंतर्देशीय जल अध्ययन में आवेदन करेगा.

ये भी पढ़ें : Bajaj ने ABS के साथ लांच की KTM 200 Duke बाइक, ये है नई आकर्षक कीमत

First published: 29 November 2018, 11:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी