Home » साइंस-टेक » Catch Hindi: Kodak classic Super 8 is coming in new avatar
 

कोडैक सुपर 8 करेगा 34 साल बाद नए अवतार में वापसी

असद अली | Updated on: 13 January 2016, 16:49 IST
QUICK PILL
  • कोडैक ने सुपर 8 कैमरा 1982 में बंद कर दिया था. अब कंपनी ने इस कैमरे को नए अवतार में रीलॉन्च करने का फ़ैसला किया है. नए कैमरे का डिज़ाइन मशहूर डिज़ाइनर ईव्स बहार ने तैयार किया है.
  • दुनिया के कई मशहूर फ़िल्म निर्देशकों ने फ़िल्ममेंकिंग का ककहरा इसी कैमरे से सीखा था. स्पीलबर्ग और टैरेन्टीनो जैसे निर्देशकों ने कंपनी के फ़ैसले का स्वागत किया  है.

कैमरा और फ़िल्म रील बनाने वाली मशहूर कंपनी कोडैक का सुपर 8 कैमरा एक बार फिर बाज़ार में दिखायी देगा. कोडैक ने इस कैमरे को 34 साल पहले 1982 में बनाना बंद कर दिया था.

नए सुपर 8 कैमरे की डिज़ाइन स्विट्जरलैंड के प्रसिद्ध डिजाइनर ईव्स बहार ने बनाया है. कोडैक ने नए कैमरा को प्रोटोटाइप भी पेश किया है.

कोडैक ने पहली बार सुपर 8 को 1964 में लॉन्च किया था. इस कैमरे ने फ़िल्म निर्माण की दिशा बदल दी थी. कोडैक ने बाज़ार में कैमकॉर्डर की बाढ़ आने के बाद इसकी मांग खत्म होने की वजह से इसे बनाना बंद कर दिया था.

पढ़ेंः सामने आया दुनिया का पहला पैसेंजर ड्रोन

क्वेंटिन टैरेन्टीनो, स्टीवेन स्पीलबर्ग जैसे हॉलीवुड के कई बड़े निर्देशकों ने अपनी पहली फ़िल्म इसी कैमरे से बनायी थी. मशहूर निर्देशक क्रिस्टोफ़र नोलान ने कई बार सार्वजनिक रूप से कहा है कि वो बचपन में अपने पिता के सुपर 8 पर छोटी छोटी फिल्में बनाते थे.

सुपर 8 को रीलॉन्च करके कोडैक नौजवान फिल्ममेकर्स के बीच जगह बनाना चाहता है. कोडैक के सीईओ जेफ़ क्लार्क ने संकेत दिया है कि सुपर 8 को ऐसे फ़िल्म स्कूल के छात्रों को ध्यान में रखकर रीलॉन्च किया जा रहा है, जहां उन्हें एनालॉग कैमरे पर काम करने की सुविधा नहीं मिलती.

क्लासिक सुपर 8 में 8 एमएम की रील का उपयोग किया जाता था. उम्मीद की जा रही है कि नए सुपर 8 में पहले ही की तरह रील तो होगी लेकिन उसके साथ कुछ नई तकनीकों का भी प्रयोग किया जाएगा.

पढ़ेंः एप्पल कारः 2019 तक दौड़ सकती है सड़कों पर!

कोडैक ब्रांड आइडेंटीटी की ग्लोबल डायरेक्टर डैनीले एटकिंस ने एनगैजेट वेबसाइट को दिए इंटरव्यू में कहा है, "हमने ऊपरी हैंडल में बदलाव किया है और इसमें डिजिटल व्यूफाइंडर होगा. पुराने कैमरा में आप साफ साफ नहीं देख पाते थे कि क्या आप क्या शूट कर रहे हैं. नए कैमरे की एलसीडी स्क्रीन पर आप जो शूट कर रहे हैं उसे देख सकेंगे."

उम्मीद है कि सुपर 8 इस साल के अंत तक बाजार में आ जाएगा. अनुमान है कि इसकी शुुरुआती क़ीमत 400 से 750 डॉलर (25 से 50 हज़ार रुपये) के बीच होगी. जो बाद के मॉडलों में बढ़ सकती है.

पढ़ेंः सुपरसूटः स्क्रीन से दूर दौड़ते-भागते गेमिंग का मजा

फिल्म निर्माण में डिजिटल तकनीकी के बढ़ते प्रभाव के कारण कोडैक को पिछले कुछ सालों में काफ़ी मुश्किलों का सामना करना पड़ा. एक समय कंपनी पर दिवालियेपन का भी ख़तरा मंडरा रहा था. ऐसे में कंपनी के लिए सुपर 8 की सफलता बहुत मायने रखती है.

Kodak Super 8

कोडैक की इस घोषणा पर दुनिया के कई नामी फिल्म निर्देशकों ने जैसी प्रतिक्रिया दी है उससे कंपनी जरूर उत्साहित होगी. पढ़िए, कंपनी के फ़ैसले के बाद कुछ प्रमुख फिल्म निर्देशकों के बयान-


जेजे एबरैम

"विजुअल स्टोरीटेलिंग की हर तकनीकी का हमें स्वागत करना चाहिए लेकिन फ़िल्म रील का कोई मुक़ाबला नहीं कर सकता. कोडैक बिल्कुल नया सुपर 8 कैमरा ला रहे है ये एक सपना सच होने जैसा है."  रुचि

स्टीवेन स्पीलबर्ग

"फ़िल्म निर्माण के मामले में डिजिटल या सेलुलायड में से किसी एक को चुनना एक बड़ा सवाल है. बहुत फर्क है! क्या ये दोनों बाजार में उपलब्ध नहीं होने चाहिए ताकि कलाकार जिसे चाहे चुन सके?"

क्वेंटिन टैरैनटीनो

"फ़िल्म रील का एक अलग ही जादू होता है जब आप सेट पर एक्शन बोलते हैं और ये आपके कट बोलने तक चलती रहती है, वो एक पवित्र क्षण होता है. मुझे सिनेमा के जादू में हमेशा यकीन रहा है और ये जादू फ़िल्म रील से जुड़ा है....कोडैक नई पीढ़ी के फिल्ममेकर्स को सुपर 8 पर शूट करने का मौका देगा, ये सचमुच एक शानदार गिफ्ट है."

First published: 13 January 2016, 16:49 IST
 
असद अली @asadali1989

Asad Ali is another cattle class journalist trying to cover Current affairs and Culture when he isn't busy not saving the world.

पिछली कहानी
अगली कहानी