Home » साइंस-टेक » Latest car headlights are very bright & even blinding drivers: RAC
 

जानिए क्यों सड़क सुरक्षा के लिए खतरा हैं आधुनिक कारों की ज्यादा चमकीली हेडलाइटें

कैच ब्यूरो | Updated on: 25 March 2018, 17:45 IST
प्रतीकात्मक तस्वीर (pixabay)

शायद आपने इस बात पर गौर किया है या नहीं लेकिन पिछले कुछ सालों में आने वाली लेेटेस्ट कारों की हेडलाइट काफी तेज रोशनी और चमक बिखेरने लगी हैं. एक तरफ जहां इन कारों को चलाने वाले चालकों को इससे दूर तक साफ देखने का फायदा पहुंच रहा है, सामने से दूसरी लेन में आने वाले चालकों के लिए यह किसी बड़ी परेशानी से कम नहीं हैं.

एक ताजा शोध के मुताबिक आधुनिक कारों की हेडलाइट की चमक ने सड़कों पर एक नया खतरा पैदा कर दिया है. यह हेडलाइटें अन्य वाहन चालकों को अस्थायी रूप से चौंधिया देती हैं और वो कुछ वक्त के लिए सड़क पर कुछ देख नहीं पाते.

डेलीमेल में छपी खबर के मुताबिक आरएसी के सर्वेक्षण में यह चौंकाने वाली जानकारी सामने आई. आरएसी के सर्वेक्षण में शामिल दो तिहाई चालकों ने माना कि वे नियमित रूप से सामने से आने वाली कारों की हेडलाइट से प्रभावित होते हैं और यहां तक की वे कुछ देख भी नहीं पाते हैं.

सामने आती कारों की तेज रोशनी वाली हेडलाइट से प्रभावित होने वाले ज्यादातर चालकों ने कहा कि उन्हें वापस ठीक ढंग से देखने में करीब-करीब 5 सेकेंड का वक्त लग जाता है.

यानी अगर इस दौरान एक कार 100 किलोमीटर प्रतिघंटा की रफ्तार से चल रही है तो 5 सेकेंड में वो 27.77 मीटर की दूरी तय कर जाएगी. और जब कार चलाते वक्त पलक झपकने के भीतर ही बड़ा हादसा होने की संभावना रहती हो, तो पांच सेकेंड और 27.77 मीटर की दूरी तक क्या हो सकता है, आप समझ सकते हैं.

इस सर्वेक्षण में 2,061 वाहन चालकों ने हिस्सा लिया. इनमें से 15 फीसदी ने माना कि आधुनिक कारों की हेडलाइटें बहुत ज्यादा चमकीली हैं और इनकी चमक से वे चौंधिया गए और तकरीबन टकरा ही गए थे.

आरएसी रोड सेफ्टी प्रवक्ता पेट विलियम्स कहते हैं, "कुछ नई कारों की हेडलाइट की चमक और तीव्रता स्पष्ट रूप से सड़क पर चलने वाले अन्य चालकों के लिए परेशानी पैदा कर रहीं हैं."

उन्होंने आगे कहा, "बीते कुछ वर्षों में हेडलाइट की तकनीकी ने काफी तरक्की (आधुनिक हुई है) की है, लेकिन जहां यह विशेषरूप से उस वाहन के चालक के लिए बेहतर है, यह उनके सामने से आने वाले वाहन चालकों या किसी मोड़ पर उन्हें पार करने वाले वाहन चालकों की सुरक्षा के लिए अनचाहा जोखिम पैदा कर रही है."

वैसे केवल इतना ही नहीं है कि आधुनिक कारों की तेज हेडलाइटें सामने से आते वाहन चालकों को ही परेशानी करती हैं. बल्कि यह आगे चलने वाली कारों के चालकों को भी रीयर व्यू मिरर या साइड मिरर में अचानक तेज रोशनी देकर कुछ देर के लिए उनके देखने की क्षमता को प्रभावित कर देती हैं. 

First published: 25 March 2018, 17:45 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी