Home » साइंस-टेक » maruti suzuki to recall baleno and swift dzire for software fix and filter replacement
 

मारुति ने क्यों वापस मंगवाई 77,380 बलेनो और स्विफ्ट डिजायर?

कैच ब्यूरो | Updated on: 27 May 2016, 17:58 IST
(पत्रिका)

देश की मशहूर कार निर्माता कंपनी मारुति सुजुकी इंडिया ने अपनी हैचबैक सेगमेंट की बलेनो कार को रिकॉल करने का फैसला किया है. कंपनी ने एयरबैग में दिक्‍कत के चलते अब तक बनी करीब 75,419  बलेनो कारों को वापस मंगवाने का फैसला किया है.

मारुति सुजुकी ने बलेनो के अलावा काम्पैक्ट सीडान स्विफ्ट डिजायर के 1,961 यूनिट को भी वापस मंगाने का फैसला लिया है. स्विफ्ट डिजायर को फ्यूल फिल्टर में खराबी की शिकायत पाये जाने के कारण रिकॉल किया गया है.

अक्टूबर-2015 में किया था लॉन्च

मारुति सुजुकी ने अपनी नई हैचबैक कार बलेनो को अक्‍टूबर 2015 में लॉन्‍च किया था. कंपनी ने बलेनो का पेट्रोल और डीजल दोनों वेरिएंट बाजार उतारा था. कंपनी का कहना है कि वो सभी ग्राहकों को बलेनो में एयरबैग सॉफ्टवेयर और डिजायर में खराब फ्यूल फिल्टर बदलकर या अपग्रेड करके देगी.

मारुति सुजुकी ने पेट्रोल और डीज़ल दोनों ही वेरिएंट की बलेनो को रिकॉल किया है और इन्हें 3 अगस्त, 2015 से लेकर 17 मई 2016 के बीच तैयार किया गया था. 75,419 बलेनो कारों में से 15,995 यूनिट डीज़ल वेरिएंट की हैं, जिन्हें 3 अगस्त, 2015 से लेकर 22 मार्च, 2016 के बीच तैयार किया गया था.

बलेनो के इन 15,995 यूनिट में भी स्विफ्ट डिजायर की तरह फ्यूल फिल्टर में खराबी पाई गई है. रिकॉल की गई बलेनो में एक्‍सपोर्ट की गईं 17,231 यूनिट भी शामिल हैं. 

इसके अलावा, कंपनी ने मारुति सुजुकी स्विफ्ट डिजायर के उन 1,961 यूनिट को वापस मंगाया है जो एजीएस (ऑटो-गियर शिफ्ट) से लैस हैं. इन कारों के फ्यूल फिल्टर में खराबी पाई गई है.

इन सभी कारों को 31 मई से कंपनी के किसी डीलरशिप पर जाकर ठीक कराया जा सकता है. जिसके लिए कंपनी कोई चार्ज नहीं करेगी.

एस-क्रॉस मॉडल भी मंगाया था वापस

पिछले सप्ताह कंपनी ने अपने मंहगे मॉडल एस-क्रॉस की 20,427 इकाइयों के लिए मुफ्त सेवा अभियान की घोषणा की थी, ताकि ब्रेक के खराब हिस्से बदले जा सकें. इनमें अप्रैल 2015 से 12 फरवरी 2016 के बीच बनी कार शामिल होंगी. 

इससे पहले भी मारुति सुजुकी पिछले साल ऑल्‍टो 800 और ऑल्‍टो के-10 मॉडल की कारें रिकॉल कर चुकी है. 

First published: 27 May 2016, 17:58 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी