Home » साइंस-टेक » Nasa is planning to send the first unmanned helicopter to Mars to test the viability and potential of heavier-than-air vehicles on the red p
 

NASA लाल गृह पर भेजने जा रहा है हेलीकॉप्टर, मकसद है कुछ ख़ास

कैच ब्यूरो | Updated on: 13 May 2018, 16:47 IST

नेशनल एयरोनॉटिक्स एंड स्पेस एडमिनिस्ट्रेशन (नासा) मंगल ग्रह (मार्स) पर पहला मानव रहित हेलीकॉप्टर भेजने की योजना बना रहा है. लाल गृह पर भारी हवा वाले वाहनों की व्यवहार्यता और क्षमता का परीक्षण करने के लिए नासा 2020 में इसे लॉन्च करने की योजना बना रहा है. नासा की जेट प्रोपल्सन लेबोरेटरी (जेपीएल) में इसके तकनीकी विकास परियोजना अगस्त 2013 में शुरू की गई थी.

वाशिंगटन में एजेंसी मुख्यालय में नासा के विज्ञान मिशन निदेशालय के सहयोगी प्रशासक थॉमस जुर्बुचेन का कहना है कि नासा के मंगल हेलीकॉप्टर का लाल ग्रह में प्रवेश बड़ी सफलता है और यह भविष्य के लिए मंगल ग्रह की खोज को आगे बढ़ाने का एक अनूठा अवसर है. पृथ्वी पर उड़ने वाले हेलीकॉप्टर के लिए ऊंचाई रिकॉर्ड लगभग 40,000 फीट है. मंगल का वायुमंडल पृथ्वी का केवल एक प्रतिशत है.

नासा की यह परियोजना 99. 3 करोड़ डॉलर की है, इसका लक्ष्य मंगल की आतंरिक परिस्थितियों के बारे में जानकारी बढ़ाना है. लाल ग्रह पर मानव को भेजने से पहले वहां की परिस्थितियों को जानना सिका प्रमुख उद्देश्य है. इसके 26 नवंबर 2018 को मंगल की सतह उतरने की संभावना है.

ये भी पढ़ें :इस दिन भारतीय बाजार में आ रहा है Nokia 6.1, जानें कीमत और फीचर्स

 

First published: 13 May 2018, 16:47 IST
 
अगली कहानी