Home » साइंस-टेक » NASA’s Osiris-Rex Spacecraft Enters Orbit Around Asteroid Bennu
 

पृथ्वी पर तबाही मचा सकता है क्षुद्रग्रह बेनू, हिरोशिमा परमाणु बम से 80,000 गुना ज्यादा होगा असर

कैच ब्यूरो | Updated on: 16 January 2019, 12:11 IST
(NASA)

क्षुद्रग्रह बेनू तेजी से धरती की ओर बढ़ रहा. इस क्षुद्रग्रह की परिक्रमा कर रहे NASA के अंतरिक्ष यान OSIRIS-REX ने कुछ चौकाने वाली तस्वीरें नासा को भेजी हैं. जिसमें क्षुद्रग्रह से पृथ्वी और चंद्रमा किसी बिंदु की तरह दिख रहे हैं. इन तस्वीरों को देखकर नासा ने चेतावनी जारी की है कि यदि यह क्षुद्रग्रह धरती से टकराता है तो हिरोशिमा पर गिराए गए परमाणु बम की तुलना में 80,000 गुना ज्यादा भयानक तबाही मच सकती है.

बता दें कि द्वितीय विश्व युद्ध के दौरान 6 अगस्त, 1945 को अमेरिका ने जापान के शहर हिरोशिमा पर एक परमाणु बम गिराया था. जिसमें लगभग एक लाख लोग मारे गए थे. इस परमाणु बम ने विस्फोट के दौरान 16 किलोटन TNT के बराबर ऊर्जा छोड़ी थी.

बता दें कि बेनू 500 फुट लंबा और 8.7 करोड़ टन वजन वाला क्षुद्रग्रह है. यह विशालकाय चट्टान एंपायर स्टेट बिल्डिंग से लंबी है. वहीं टाइटेनिक जहाज की तुलना में 1,664 गुना भारी है. वैज्ञानिकों का कहना है कि अगर ये क्षुद्रग्रह पृथ्वी से टकराता है तो लाखों लोगों की जिंदगी पर बुरा असर पड़ेगा. हालांकि एजेंसी का कहना है कि इसके धरती से टकराने की आशंका 2,700 में से सिर्फ एक बार है.

NASA

वहीं वैज्ञानिकों को उम्मीद है कि यह क्षुद्रग्रह मानव अस्तित्व की उत्पत्ति के पीछे कुछ रहस्यों को उजागर करने में मदद कर सकता है. नासा इस क्षुद्रग्रह को न्यूक्लियर बम से खत्म करने की तैयारी कर रहा है. नासा ने हाईपरविलॉसिटी एस्टेरॉयड मिटिगेशन मिशन फॉर इमरजेंसी रिस्पॉन्स नामक स्पेसक्राफ्ट का डिजाइन तैयार किया है जो क्षुद्रग्रह के धरती के करीब आने पर उसे नष्ट करने को न्यूक्लियर हथियार ले जाएगा.

बता दें कि नासा का अंतरिक्ष यान OSIRIS-ReX वर्तमान में इस क्षुद्रग्रह की परिक्रमा कर इसकी जांच में लगा हुआ है. इसी उपग्रह या अंतरिक्ष यान ने ये चौकाने वाली तस्वीरे धरती पर भेजी हैं. बता दें कि साल 2020 में यह अंतरिक्ष यान इस क्षुद्र ग्रह की सतह पर उतरेगा. वहां से चट्टान के नमूने लेकर धरती पर वापस आएगा.

ये भी पढ़ें- वैज्ञानिकों को सुनाई दी ब्रह्मांड से रहस्यमयी आवाज, दूसरे ग्रह के बारे में हो सकता है खुलासा

First published: 16 January 2019, 12:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी