Home » साइंस-टेक » Once-in a-lifetime 'Christmas Star' to appear this month as Jupiter and Saturn align
 

क्रिसमस से पहले अंतरिक्ष में दिखेगा अनोखा नजारा, 397 साल पहले बना था यह अद्भुत संयोग

कैच ब्यूरो | Updated on: 7 December 2020, 23:06 IST

इस साल आसमान में क्रिसमस से पहले एक अद्भुत नजारा देखने को मिलेगा, जो इससे पहले करीब 397 सालों पहले हुआ था यानि 1623 ईस्वी में.

दरअसल, 21 दिसंबर को बृहस्पति और शनि ग्रह एक दुर्लभ घटना में एक दूसरे के काफी पास आएंगे. इस दौरान यह किसी चमकदार तारे की तरह लोगों को दिखाई देंगे.


बता दें, इस घटना को ग्रेट कंगक्शन यानि "एक संयोजन" कहा जाता है और यह हर 20 सालों में होने वाली खगोलिय घटना है.

लेकिन 1623 ईस्वी के बाद यह ग्रह एक दूसरे के इतने पास आंएगें. हालांकि, उस साल यह दोनों ग्रह सूर्य से सिर्फ 13 डिग्री दूर थे, जिससे उन्हें पृथ्वी से देखना लगभग असंभव था. आखिरी बार जब यह दोनों ग्रह इतने पास आए थे और इन्हें देखा जा सकता था वो साल 1226 में हुआ होगा.

वहीं अगर कोई इस घटना को नहीं देख पाता है तो उसे साल 2080 तक का इंतजार करना होगा, क्योंकि उस साल यह एक बार फिर इतने पास आएंगे.

एमपी बिड़ला तारामंडल के निदेशक, देबी प्रसाद दुआरी ने कहा,"यह बेहद दुर्लभ संयोग है जो हजारों वर्षों में एक बार बनता है."

उन्होंने कहा, "अगर दो खगोलीय पिंड पृथ्वी से एक दूसरे के करीब दिखाई देते हैं, तो इसे एक संयुग्मन कहा जाता है और अगर शनि और बृहस्पति के ऐसे संयोग बनते हैं तो इसे महान संयुग्मन कहते हैं."

दुआरी ने आगे बताया,"21 दिसंबर की रात इन दोनों ग्रहों की भौतिक दूरी लगभग 735 मिलियन किमी होगी. इसके बाद ऐसा अद्भुत संयोग 15 मार्च, 2080 को बनेगा." दुआरी ने आगे बताया कि 21 दिसंबर को दोनों ग्रह एक-दूसरे के करीब आते दिखाई देंगे.

वैज्ञानिकों की मानें तो इन घटना को देखने के लिए किसी भी टेलिस्कोप की आवश्यकता नहीं होगी.

Chandra Grahan 2020: कहां-कहां दिखाई देगा इस साल का अंतिम चंद्रग्रहण, जानिए समय और तारीख

First published: 7 December 2020, 23:06 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी