Home » साइंस-टेक » passengers will be able to use wifi in flight, Modi government gave permission
 

मोदी सरकार ने दिया बड़ा तोहफा, अब हवाई यात्रा के दौरान WiFi का इस्तेमाल कर पाएंगे यात्री

कैच ब्यूरो | Updated on: 2 March 2020, 13:10 IST

एयरलाइन कंपनियां अब अपने यात्रियों को यात्रा के दौरान वाईफाई (WiFi) की सुविधा मुहैया करवा पाएंगी. केंद्र सरकार ने एयरलाइनों को इन-फ्लाइट वाईफाई सेवाओं की अनुमति दे दी है. पीटीआई रिपोर्ट के अनुसार पायलट-इन-कमांड द्वारा परमिट के बाद उड़ान के दौरान यात्रियों को यह सेवा दी मुहैया करवाई जाएगी. इस दौरान यात्रियों को स्मार्टफोन, लैपटॉप, टैबलेट, ई-रीडर या स्मार्टवॉच के लिए इन-फ्लाइट वाईफाई सेवाओं का लाभ मिल सकता है.

इन सेवाओं का लाभ केवल तभी उठाया जा सकता है जब फ्लाइट ने उड़ान भरी ली हो और सभी दरवाजे बंद हों. सरकार ने 2018 में अंतर्राष्ट्रीय के लिए समुद्री संचार (आईएफएमसी) और इन-फ़्लाइट वाईफाई लाइसेंस की घोषणा की थी. सबसे पहले इसका प्रस्ताव भारतीय दूरसंचार नियामक रखा गया था. 

 

हालही में टाटा के स्वामित्व वाली विस्तारा ने घोषणा की है कि वह इन-फ्लाइट वाईफाई सेवाओं को पेश करेगी और दावा किया कि वह ऐसा करने वाली पहली एयरलाइन है. विस्तारा ने इसके लिए कंपनी ने टाटा समूह की कंपनी नेल्को के साथ साझेदारी की है. विस्तारा अपनी वाईफाई सेवाओं को मार्च-अंत तक अपनी कुछ अंतरराष्ट्रीय उड़ानों में पेश करेगी. विस्तारा अपने नए बोइंग 787 ड्रीमलाइनर्स पर इन-फ्लाइट में वाई-फाई और स्ट्रीमिंग सेवाएं प्रदान करेगी.

विस्तारा इसके लिए कितना चार्ज लेगा यह अभी तय नहीं किया गया है. सिंगापुर एयरलाइंस को उम्मीद है कि इससे विस्तारा भारत, यूरोप और यू.एस. अच्छा प्रदर्शन करेगी. एमिरेट्स एयरलाइंस और एतिहाद एयरवेज पीजेएससी के बीच दक्षिण-पूर्व एशिया में बड़ी प्रतिस्पर्धा है. सिंगापुर एयरलाइंस और टाटा समूह के बीच एक संयुक्त उद्यम विस्तारा ने 2015 में उड़ान शुरू की थी और वर्तमान में 32 एयरबस ए 320 और सात बोइंग 737 का संचालन करती है.

खुशखबरी: Vistara एयरलाइन के यात्री कर पाएंगे फेसबुक, whatsApp इस्तेमाल

First published: 2 March 2020, 13:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी