Home » साइंस-टेक » Paytm is testing blink of eye do digital payment recognition, its first time in india
 

अब आंख झपकाकर भी कर सकेंगे पैसा ट्रांसफर, भारत में पहली बार जल्द शुरू होगी ये सुविधा

कैच ब्यूरो | Updated on: 25 September 2018, 14:16 IST
(प्रतीकात्मक फोटो )

इंटरनेट की शुरुआत होने के बाद देश में बैंकिंग सहित कई क्षेत्रों से जुड़े काम करना काफी आसान हो गया है. इंटरनेट आने के बाद डिजिटल के क्षेत्र में कई बदलाव देखने को मिले हैं. इंटरनेट बैकिंग की सुविधा मिलने के बाद लोगों के आज बैंकिंग क्षेत्र से जुड़े अधिकतर काम घर से ही हो जाते हैं. किसी को भी, कहीं भी पैसा भेजना अब बहुत आसान हो गया है. घर बैठे ही लोगों किसी के खाते में भी पैसा ट्रांसफर कर सकते हैं. अब डिजिटल पेमेंट के क्षेत्र में एक और बड़ा बदलाव होने जा रहा है. बहुत जल्द आप चेहरे के द्वारा डिजिटल पेमेंट कर सकेंगे.

डिजिटल पेमेंट की सुविधा देने वाली कंपनी पेटीएम भी अपने ग्राहकों को चेहरे के जरिए डिजिटल पेमेंट करने की सुविधा देने जा रही है. इसके लिए पेटीएम ने टेस्टिंग शुरू कर दी है. पेटीएम ये टेक्नोलॉजी एप्पल फोन की तरह ही शुरू करने जा रहे हैं. जिस तरह से यूजर्स एप्पल के फोन को चेहरे के सामने लाता है. वह अनलॉक हो जाता है. इस तरह ही पेटीएम भी अब डिजिटल पेमेंट की सुविधा शुरू करने जा रहा है. पेटीएम फेशियल रिकगनिशन (चेहरा पहचानने की टेक्नोलॉजी) के जरिए पेमेंट ऐप खोलने की टेक्नोलॉजी पर काम कर रहा है.

 मीडिया खबरों के मुताबिक, कंपनी के एक अधिकारी ने बताया है कि पेटीएम चेहरे से डिजिटल पेमेंट करने की टेक्नोलॉजी पर काम कर रहा है. कंपनी की योजना है कि सिर्फ पलकें झपका कर किसी भी दुकान पर पेमेंट किया जा सके. इससे एप की सिक्योरिटी भी बढ़ जाएगी. अभी तक ऑफलाइन पेमेंट मोड में यूजर्स का डेटा चोरी होने का खतरा रहता है.

अधिकारी ने कहा कि इसकी टेस्टिंग शुरू कर दी गई है. एक बार लाइव होने के बाद यूजर्स फोन में देखकर ही एप को ओपन कर सकते हैं. पेटीएम इस फीचर का एंड्रॉइड प्लेटफॉर्म पर टेस्ट कर रहा है. जल्द ही इस फीचर को एप अपटेड के जरिए यूज्र के फोन में फोन में भेज दिया जाएगा. इस फीचर के जरिए यूजर्स 2000 रुपये तक ही पेमेंट कर सकेगा. इसका उपयोग दुकान पर पेमेंट करने के लिए किया जा सकता है. पेटीएम से देश के 95 लाख दुकानदार जुड़े हुए हैं. उनको देखते हुए कंपनी ने इस फीचर की शुरुआत की है.

ये भी पढ़ें- रुपये में सुधार के लिए मोदी कर सकते हैं ये ऐतिहासिक घोषणा, नोटबंदी के बाद का सबसे कठोर कदम

First published: 25 September 2018, 13:17 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी