Home » साइंस-टेक » QuickHeal warns, mobile banking apps on dangerous malware, Android malware, Android.banker A9480
 

QuickHeal ने चेताया, भारत सहित दुनिया के 232 बैंकों के मोबाइल एप्स आ चुके हैं इस मैलवेयर की चपेट में

कैच ब्यूरो | Updated on: 7 January 2018, 14:16 IST

अगर आप भी मोबाइल बैंकिंग एप का इस्तेमाल करते हैं तो आपको इसके इस्तेमाल के दौरान सावधानी की जरूरत है. इंटरनेट सुरक्षा देने वाली कंपनी क्विकहील ने इसके लिए अलर्ट जारी किया है. क्विकहील का कहना है कि भारत सहित दुनिया की करीब 232 बैंकों के मोबाइल एप्स को एक इस खतरनाक मैलवेयर की चपेट में आ चुके हैं. इस मेलवेयर को ‘एंड्रॉइड डॉट बैंकर डॉट ए9480’ नाम से जाना जा रहा है.

क्विकहील ने एक ब्लॉग के जरिये कहा है कि भारत में इस मैलवेयर के निशाने पर आईसीआईसीआई बैंक, एचडीएफसी, एक्सिस बैंक, एसबीआई, आईडीबीआई बैंक, बैंक ऑफ बड़ौदा और यूनियन बैंक शामिल हैं. क्विकहील का कहना है कि इसकी चपेट में न सिर्फ बैंकिंग एप्स हैं बल्कि बिटकॉइनियम, कॉइनपेमेंट और बिट फिनेक्स जैसी 20 से अधिक क्रिप्टोकरेंसी एप्स को भी यह मैलवेयर अपने चपेट में ले चुके हैं.

मैलवेयर का कहना है कि अपने स्मार्ट फोन ने इंस्टॉल होने के बाद यह मैलवेयर किसी आइकन के रूप में नहीं दिखता है. यह बैंक द्वारा भेजे गए नोटिफिकेशन की तह दिखता है. इस पर क्लिक करते ही आपकी कई निजी जानकारियों पर इस मैलवेयर का कब्ज़ा हो जाता है.

ऐसे बचें मैलवेयर से

क्विकहील का कहना है कि आप इस खतरे से खुद को बचा सकते हैं. स्मार्टफोन यूजर्स अगर थर्ड पार्टी एप स्टोर और एसएमएस से भेजे गए लिंक के जरिये किसी भी एप को डाउनलोड नहीं करेंगे तो इससे बच सकते हैं. एंड्रॉयड स्मार्टफोन यूजर केवल ‘गूगल प्ले स्टोर’ से और आईफोन यूजर केवल ‘ऐप स्टोर’ से ही किसी एप को डाउनलोड करें.

First published: 7 January 2018, 14:14 IST
 
अगली कहानी