Home » साइंस-टेक » Rare Ferrari 250 GTO become world’s most expensive car after auction
 

इस दुर्लभ लाल रंग की फरारी की नीलामी के लिए लगेगी रिकॉर्ड बोली

कैच ब्यूरो | Updated on: 2 July 2018, 15:27 IST

कैलिफ़ोर्निया में वार्षिक पेबल बीच कंसोर डी 'लालित्य मोटरिंग सप्ताह के दौरान अगस्त में 1962 की एक दुर्लभ लाल रंग की फरारी 250 जीटीओ की नीलामी की जाएगी. 

बता दें कि फरारी ने साल 1953 से लेकर साल 1964 तक केवल 36 मॉडल बनाए हैं और इन रेसिंग कारों ने हाल के वर्षों में सभी पुराने ऑटोमोबाइलों में सबसे ज्यादा कमाई की है. इससे पहले साल 2014 की नीलामी में, 1963 के संस्करण की एक क्लासिक कार ने बोनहम्स में 38.1 मिलियन डॉलर कमाए थे जो वर्तमान में एक रिकॉर्ड है.

अगस्त में ब्लॉक पर जाने वाली फेरारी के मालिक ग्रेग व्हिटन न्यूमेरिक्स सॉफ्टवेयर लिमिटेड के अध्यक्ष है और इससे पहले माइक्रोसॉफ्ट कर्मचारी रह चुके हैं. जिन्होंने साल 2000 में इसे खरीदा था. सोथबी के मुताबिक यह कार कई दौड़ में प्रतिस्पर्धा कर चुकी है और 1962 के इतालवी राष्ट्रीय जीटी चैंपियनशिप भी जीती है. वहीं इस कार में अब भी ओरिजनल इंजन, गियरबॉक्स और पिछला धुरी लगा है.

ये भी पढ़ें-6 लाख तक कम कीमत में कावासाकी Ninja ZX 10R हुई लांच

First published: 2 July 2018, 15:41 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी