Home » साइंस-टेक » Tata Truck Racing Championship with India's first Indian Truck Driver Race on 20 Mar at BIC
 

बुद्ध सर्किट पर पहली बार ट्रक रेसिंग चैंपियनशिप में हिस्सा लेंगे भारतीय ड्राइवर

कैच ब्यूरो | Updated on: 26 February 2016, 20:44 IST

यमुना एक्सप्रेसवे स्थित बुद्ध इंटरनेशनल सर्किट पर अगले महीने ट्रक रेसिंग चैंपियनशिप का आयोजन किया जाएगा. टाटा मोटर्स द्वारा घोषणा की गई कि टी1 प्राइमा ट्रक रेसिंग चैंपियनशिप का तीसरा सत्र 20 मार्च 2016 को किया जाएगा.

भारतीय ड्राइवरों में ट्रकिंग की आकांक्षा को बढ़ाने के उद्देश्य से इस बार ट्रक रेसिंग के तीसरे सीजन में पहली बार भारतीय ड्राइवर भी रेस करते दिखेंगे. हालांकि पहले की तरह इस चैंपियनशिप के दौरान छह टीमों के अनुभवी अंतरराष्ट्रीय ड्राइवर भी 12 टाटा प्राइमा रेस ट्रक चलाते नजर आएंगे.

भारतीय ड्राइवरों के लिए टाटा मोटर्स ने एक नए भारतीय ट्रक रेस चयन और प्रशिक्षण कार्यक्रम की भी शुरुआत की थी. इसके पीछे कंपनी का मकसद लोगों में ट्रक ड्राइविंग प्रोफेशन की आकांक्षा को बढ़ाने के साथ ही ड्राइवरों को व्यावसायिक वाहन चलाने के लिए प्रेरित करना है.

पढ़ेंः टेक ऑफ और लैंडिंग के दौरान क्यों खुली रखनी पड़ती है विमान की खिड़की?

टाटा मोटर्स के देश भर में प्रमुख ग्राहकों के यहां काम कर रहे ड्राइवरों का रेस में भाग लेने के लिए चयन किया जाएगा. टाटा मोटर्स कुल 12 भारतीय ट्रक ड्राइवरों को टी1 प्राइमा ट्रक रेसिंग चैंपियनशिप 2016 में भेजा जाएगा.

टी1 प्राइमा ट्रक रेसिंग चैंपियनशिप का आयोजन मद्रास मोटर स्पोर्ट्स क्लब (एमएमएससी) और द फेडरेशन ऑफ मोटर स्पोर्ट्स क्लब्स ऑफ इंडिया (एफएमएससीआई) द्वारा किया जा रहा है. जबकि फॉर्मूला 1 आयोजक संस्था फेडरेशन इंटरनेशनाले डी ऑटोमोबाइल (एफआईए) के कैलेंडर में भी इसकी जानकारी देकर इसे वैश्विक बना दिया गया है. 

tata t1 prima truck race3.jpg

चैंपियनशिप में दो भाग रखे गए हैं. जिसमें पहला सुपर क्लास हैं. इसमें इंडियन रेस ट्रक डाइवरं के बीच रेस होगी. जबकि प्रो क्लास के अंतर्गत अंतरराष्ट्रीय स्तर के ड्राइवरों के बीच खिताब जीतने की दौड़ होगी. 

गौरतलब है कि 2014 में पहली बार आयोजित होने के बाद मार्च 2015 में इसका दूसरी बार आयोजन किया गया था. जिसमें 50 हजार से ज्यादा दर्शक पहुंचे थे.

First published: 26 February 2016, 20:44 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी