Home » साइंस-टेक » Twitter suspends 1.25 lac accounts related to terrorism like ISIS
 

ऑनलाइन आतंक का अंत करने को ट्विटर ने बंद किए 1.25 लाख अकाउंट

कैच ब्यूरो | Updated on: 6 February 2016, 13:27 IST

आतंक के खिलाफ जारी अभियान में अब सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म भी कूद गए हैं. ताजा घटनाक्रम में माइक्रो ब्लॉगिंग साइट ट्विटर ने आतंकी संगठनों से संबंधित सवा लाख अकाउंटों को बंद कर दिया है. इनमें से अधिकांश इस्लामिक स्टेट (आईएसआईएस) जैसे आतंकी संगठन से संबंधित हैं.

ट्विटर ने शुक्रवार को जारी एक बयान में कहा है कि जब अन्य यूजर्स ने इससे संबंधित शिकायत की तब हमने उन अकाउंट्स को हटा दिया. लेकिन अब हमने ऐसी शिकायतों को देखने और प्रतिक्रिया करने वाली टीमों को बढ़ा दिया है और इससे त्वरित कार्रवाई भी तेजी से बढ़ी.

हालांकि ट्विटर ने भारत केंद्रित आतंकवादी संगठनों और व्यक्तियों के ट्विटर अकाउंट के खिलाफ अब तक ऐसी कोई भी कार्रवाई नहीं की है. अमेरिका स्थित ट्विटर ने कहा कि, "हम सभी को पता है कि आतंकियों का धमकी देने का अंदाज अब बदल गया है. इसलिए हम इस क्षेत्र में काम कर रहे हैं. केवल बीते वर्ष 2015 के मध्य तक हमने 1.25 लाख उन ट्विटर अकाउंटों को संस्पेंड कर दिया था जो आतंकी गतिविधियों का प्रचार-प्रसार कर रहे थे."

twitter combating extremism.jpg

ट्विटर कंपनी की इस पहल का यूएस व्हाइट हाउस ने भी स्वागत किया है. व्हाइट हाउस के एक अधिकारी के मुताबिक, "जैसा की राष्ट्रपति ने कहा था कि डिजिटल क्षेत्र में आईएस और इस जैसे आतंकी संगठनों की विचारधारा के विरुद्ध कार्रवाई करना सरकार और निजी क्षेत्र दोनों की प्राथमिकता में है. प्रशासन किसी भी तरह के आतंकवाद के खिलाफ लड़ने के लिए प्रतिबद्ध है, चाहे वो साइबर हो या अन्य क्षेत्रों का."

पढ़ेंः फेसबुकः लाइक बटन से दिखेंगे 6 रिएक्शन, क्यों पड़ी इसकी जरूरत

वहीं, पाकिस्तान और अफगानिस्तान से संचालित होने वाले आतंकी संगठनों के ट्विटर अकाउंटों के बारे में फिलहाल इस साइट ने कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है. बता दें कि 26/11 मुंबई हमले के मास्टरमाइंड हाफिज सईद ने 3 फरवरी को ही ट्वीट करके भारत को फिर से आतंकी हमले की धमकी दी थी.

ट्विटर के मुताबिक वह इस तरह की गतिविधियों के प्रचार-प्रसार करने की निंदा करता है और ट्विटर के नियम ऐसे मामलों में बिल्कुल साफ हैं कि ऐसी गतिविधियों, हिंसक धमकियों का प्रयोग करने के लिए वह अपनी सेवा का प्रयोग करने की अनुमति नहीं देता है. कंपनी ने यह भी कहा कि वो इस तरह के तमाम और अकाउंटों की भी जांच कर रही है जो आतंकी और हिंसक गतिविधियों  को बढ़ावा देने के लिए ट्विटर का इस्तेमाल कर रहे हैं.

First published: 6 February 2016, 13:27 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी