Home » साइंस-टेक » What is FASTags, where to buy, here is all the information
 

FASTags क्या है, कहां से खरीदना है, यहां है सारी जानकारी

कैच ब्यूरो | Updated on: 29 November 2019, 12:19 IST

FASTag : 1 दिसंबर से देशभर में राष्ट्रीय राजमार्गों पर मौजूद टोल प्लाजा पर FASTag के माध्यम से टोल लिया जायेगा. FASTag गाड़ियों में फिट किया गया है. पिछले कुछ वर्षों में खरीदे गई सभी नई गाड़ियों में पहले से ही FASTag प्री-इंस्टॉल किया गया है. अगले महीने से राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (NHAI) के नियंत्रण में सभी 560-विषम प्लाज़ ऑटोमैटिक तरीके से टोल प्राप्त करेंगे. इसमें टोल कर्मचारियों के हस्तक्षेप की आवश्यकता नहीं पड़ेगी.

यह डिवाइस सीधे जुड़े हुए प्रीपेड या बचत खाते से भुगतान के लिए रेडियो फ्रीक्वेंसी आइडेंटिफिकेशन (RFID) तकनीक से चलता है. यह विंडस्क्रीन पर चिपका हुआ है, इसलिए वाहन बिना रुके जा सकते हैं. RFID ट्रांसपोर्ट एक्सेस-कंट्रोल सिस्टम में उपयोग होने वाली मेट्रो मेट्रो कार्ड की तरह ही है.

यदि आपका टैग वॉलेट या डेबिट-क्रेडिट कार्ड जैसे प्रीपेड खाते से जुड़ा हुआ है, तो टैग को रिचार्ज / टॉप अप (Fastag Recharge) करना होगा. यदि इसे बचत खाते से जोड़ा जाता है, तो पूर्व-निर्धारित सीमा पर शेष धनराशि स्वतः ही कट जाएगी. गाडी के टोल पार करने के बाद आपके मोबाइल पर एसएमएस अलर्ट मिलेगा. एक FASTag पांच साल के लिए वैध है और आवश्यकता पड़ने पर इसे रिचार्ज किया जा सकता है.

 

कैसे काम करता है ?

अमेजन और पेटीएम जैसे ई-कॉमर्स पोर्टल विभिन्न बैंकों द्वारा जारी किए गए इन टैगों को बेचते हैं. यह 22 बैंकों (एनएचएआई) और एनएचएआई द्वारा स्थापित 27,000 पॉइन्ट पर उपलब्ध हैं. एनएचएआई काउंटरों पर ज्यादातर टोल प्लाजाओं प टैग 1 दिसंबर तक मुफ्त है. इन काउंटरों को सड़क परिवहन प्राधिकरण कार्यालय, ट्रासंपोर्ट हब, बैंकों और चयनित पेट्रोल पंप पर स्थापित किया जा सकता है. NHAI से खरीदा गया एक FASTag 100 रुपये में मिलेगा साथ ही 150 रुपये की रिफंडेबल सिक्योरिटी डिपॉजिट भी इसमें शामिल है.

NHAI से लिए गए टैग में 150 रुपये का सिक्योरिटी डिपॉजिट, जिसे सरकार प्रमोशन के तौर पर ले रही है, यूज़र को वॉलेट वैल्यू के रूप में वापस दिया जा रहा है. अगर FASTag “My FASTag ऐप” मोबाइल ऐप में NHAI ई-वॉलेट से जुड़ा हो तो इस विशेष योजना में उपयोगकर्ता को बिना भुगतान किए भी 150 रुपये वापस मिल जाते हैं. FASTag के बिना FASTag लेन में प्रवेश करने वाले वाहनों से टोल राशि का दोगुना शुल्क लिया जाएगा.

गुजरात में सबसे ज्यादा कमाई करने वाली टेलिकॉम कंपनी बनी जियो

 

First published: 29 November 2019, 12:12 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी