Home » साइंस-टेक » WhatsApp introduced new Feature for high security, fingerprint scanner for the app
 

WhatsApp चलाने वालों के लिए खुशखबरी, अब आपके फिंगरप्रिंट से ही खुलेगा वाट्सऐप, करना होगा ये काम

कैच ब्यूरो | Updated on: 9 January 2019, 12:57 IST

 WhatsApp आज देश और दुनिया का सबसे बड़ा मैसेजिंग ऐप बन गया है. अपने यूज़र्स की मांगों और जरुरतों को ध्यान में रखते हुए इस बार WhatsApp सिक्योरिटी के तहत एक नया फीचर लेकर आया है. अब WhatsApp में फिंगरप्रिंट ऑथेन्टिकेशन का नया फीचर जोड़ा जा जाएगा. हालांकि इस बात की खबरें बीते काफी समय से आ रही थी, लेकिन अब ये खबर लगभग कनफर्म हो चुकी है.

WAbetainfo की एक रिपोर्ट के अनुसार, WhatsApp ने यह नया फीचर लाने के लिए गूगल प्ले बीटा प्रोग्राम के जरिए एक नया अपडेट सबमिट किया है. इस नए अपडेट में यूजर्स को इस नए फीचर की सुविधा मिलेगी.

Facebook यूज़र्स हो जाएं सावधान, आपके फ़ोन में सेव निजी तस्वीरें भी हो सकती हैं लीक

बता दें कि WhatsApp ने अपने iPhone यूजर्स के लिए सुरक्षा की नजर से फेस आईडी और इसके साथ ही टच आईडी का फीचर तैयार कर लिया है. फिलहाल इस नए फीचर को अभी तक स्टेबल अपडेट नहीं दिया गया है. इसी क्रम में अब WhatsApp एंड्रॉयड स्मार्टफोन के लिए फिंगरप्रिंट ऑथेन्टिकेशन पर काम कर रहा है.

इस बारे में आई रिपोर्ट के अनुसार WhatsApp में यह नया फीचर आने के बाद वॉट्सऐप में एक नया सेक्शन जुड़ जाएगा. इस नए सेक्शन से यूजर्स फिंगरप्रिंट फीचर को अपने WhatsApp पर एनेबल कर सकते हैं. यह नया फीचर iOS में दिए जाने वाले फीचर की तरह ही होगा. इसके जरिए फिंगरप्रिंट के द्वारा ऐप को लॉक किया जा सकेगा. वॉट्सऐप को ओपन करने के लिए भी यूजर को अपना फिंगरप्रिंट स्कैन करना होगा.

70,000 रुपये सालाना है आपके Facebook अकाउंट की कीमत...

बता दें कि WhatsApp के फिंगरप्रिंट के डैशबोर्ड में तीन ऑप्शन् दिए गए हैं - फिंगरप्रिंट, कैंसिल और डिवाइस क्रेडेन्शियल. इन ऑप्शन के जरिए अगर कभी फोन में आपका फिंगरप्रिंट रीड नहीं होता है तो आप फोन के पासवर्ड के जरिए भी WhatsApp को अनलॉक कर सकते हैं. हालांकि कंपनी ने अभी तक यह जानकारी नहीं दी है कि WhatsApp में इस नए अपडेट को कब तक जारी किया जाएगा.

Nokia लाया 1-2 नहीं पूरे 7 कैमरे वाला दुनिया का पहला स्मार्टफोन, सबसे पहले खरीदने के लिए करें ये काम

गौरतलब है कि WhatsApp में बाकि अन्य मैसेंजर ऐप की तरह लॉग इन आईडी और पासवर्ड न होने की वजह से इस ऐप पर इसे लॉक करने का दबाव था. WhatsApp को लॉक करने के लिए अभी तक लोग थर्ड पार्टी ऐप्स का सहारा लेते हैं जो कि सुरक्षा के मद्देनजर खतरनाक भी है.

 

First published: 9 January 2019, 12:57 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी