Home » साइंस-टेक » Why Asus launched it's smartphone Zenfone 3 Deluxe costlier than Samsung Note 7
 

क्यों आसुस ने लॉन्च किया सैमसंग नोट 7 से महंगा स्मार्टफोन, जाने खूबियां और खामियां

अमित कुमार बाजपेयी | Updated on: 19 August 2016, 15:35 IST

ताइवान की दिग्गज तकनीकी कंपनी आसुस ने देश में अब तक का अपना सबसे महंगा स्मार्टफोन जेनफोन 3 डीलक्स लॉन्च किया है. यह स्मार्टफोन हाल ही में लॉन्च सैमसंग नोट 7 से भी तीन हजार रुपये महंगा है. कंपनी ने इसकी कीमत 62,999 रखी है. 

इतना ही नहीं आसुस ने प्रीमियम रेंज के इस हैंडसेट के अलावा जेनफोन 3 अल्ट्रा को 49,999 रुपये में लॉन्च किया है. क्वालकॉम स्नैपड्रैगन 820 प्रोसेसर युक्त यह प्रीमियम स्मार्टफोन अब तक कंपनी आसुस द्वारा देश में लॉन्च किए गए स्मार्टफोनों की तुलना में काफी ज्यादा महंगे हैं.

टाइम्स ऑफ इंडिया से बातचीत में आसुस इंडिया के प्रमुख पीटर चैंग ने कहा कि कंपनी इस साल ऊंची कीमत के स्मार्टफोन लॉन्च कर दूसरे वर्ग के यूजर्स को भी आकर्षित करना चाहती है. कंपनी की योजना है कि वो किसी एक प्राइस सेगमेंट में खुद को न बांधे, बल्कि कई वर्गों में अपनी पहचान बनाए.

मुफ्त अनलिमिटेड 4जी डाटा के साथ 59,990 रुपये में सैमसंग नोट 7 लॉन्च

चैंग का कहना है कि स्मार्टफोन का बाजार तमाम यूजर्स और कई दामों के फोन वाले वर्ग में बंटा हुआ है. इसलिए कंपनी यह साबित करना चाहती है कि वो केवल मध्यम या निम्न कीमत के फोन बाजार के लिए ही हैंडसेट का निर्माण नहीं करती, बल्कि उनके लिए भी करती है जो पैसे खर्च करके फोन की कीमत को समझते हैं.

चैंग ने कहा कि जो लोग क्वालकॉम स्नैपड्रैगन 821 के बारे में नहीं जानते उनके पास जेनफोन 3 डीलक्स को खरीदने का कोई कारण नहीं है. इसकी बजाए वे किसी अन्य वर्जन को चुन सकते हैं. इसी तरह फोन का जमकर इस्तेमाल करने वाले यूजर्स को सामान्य यूजर्स की तुलना में 256 जीबी इंटर्नल स्टोरेज की जरूरत होती है. यह केवल प्रोसेसर और स्टोरेज की बात नहीं है, इसके अलावा स्क्रीन साइज, रैम समेत कई अन्य बातें भी मायने रखती हैं.

आसुस की योजना है कि वो अपने उत्पादों की श्रंखला में विविधता लाए और कई दामों की श्रेणियों में ज्यादा स्मार्टफोन पेश करे. हालांकि इसका यह मतलब कतई नहीं है कि कंपनी अपनी डिवाइसों की मौजूदा श्रेणी को खत्म करने वाली है. कंपनी के पास अभी भी बजट हितैषी वर्ग के लिए जेनफोन मैक्स, जेनफोन 2 समेत अन्य कई हैंडसेट हैं. 

नया स्मार्टफोन खरीदने की सोच रहे हैं तो थोड़ा इंतजार रहेगा बेहतर

कंपनी अलग-अलग दामों के स्मार्टफोन श्रेणी में अपनी मौजूदगी दर्ज कराने के साथ ही देश में ऑफलाइन रिटेल स्टोर्स की संख्या बढ़ाने की दिशा में भी काम कर रही है, ताकि कंपनी के संभावित ग्राहक खरीदारी से पहले इन स्टोर्स पर जाकर उसके उत्पादों को इस्तेमाल करके देख सकें. ऑनलाइन बाजार में उत्पाद के हकीकत में इस्तेमाल की अनुमति नहीं होती है. 

जेनफोन 3 डीलक्स के फीचर्स

  • ड्युअल सिम वाला जेनफोन 3 डीलक्स सिल्वर, ग्रे और गोल्ड कलर में उपलब्ध है
  • अदृश्य एंटीना डिजाइन के साथ यह दुनिया का पहला फुल मेटलबॉडी स्मार्टफोन है
  • इस फोन की लंबाई 156.4, चौड़ाई 77.4 और मोटाई  बेहद कम 4.2 मिलीमीटर जबकि वजन 172 ग्राम है
  • यह फोन एंड्रॉयड मार्शमैलो 6.0 ऑपरेटिंग सिस्टम पर चलता है
  • इसमें 2.1 गीगाहर्ट्ज का 64 बिट क्वालकॉम क्वॉडकोर स्नैपड्रैगन 820+2.4 गीगाहर्ट्ज का क्वॉडकोर स्नैपड्रैगन 821 प्रोसेसर है
  • यह फोन 5.7 इंच के फुलएचडी (1920X1080 पिक्सल) रिजोल्यूशन डिस्प्ले और कॉर्निंग गोरिल्ला ग्लास 4 प्रोटेक्शन के साथ आता है 
  • जेनफोन 3 डीलक्स में 6 जीबी रैम और 64/128/256 जीबी इंटर्नल स्टोरेज के विकल्प हैं. जिसे माइक्रोएसडी कार्ड के जरिये 128 जीबी तक बढ़ाया जा सकता है
  • पावर बैकअप के लिहाज से इसमें 3,000 एमएएच की बैटरी ही दी गई है जो बूस्टमास्टर फास्ट चार्जिंग के जरिये केवल 39 सेकेंड में ही 60 फीसदी बैटरी चार्ज कर देती है
  • आवाज के लिहाज से इसमें स्टीरियो की बजाए नया 5 मैग्नेट मोनो स्पीकर दिया गया है
  • फोटोग्राफी के लिहाज से इसका प्राइमरी रीयर कैमरा सोनी के सेंसर से लैस 23 मेगापिक्सल का है. जबकि फ्रंट कैमरा 8 मेगापिक्सल का

खूबियां और खामियां

  • अगर 62,999 रुपये की भारी कीमत के लिहाज से बात करें तो इसकी फुल मेटलबॉडी वाली काफी पतली डिजाइन, क्वालकॉम स्नैपड्रैगन 821 प्रोसेसर, 6 जीबी रैम और 256 जीबी तक मेमोरी, 4के वीडियो रिकॉर्डिंग, ड्युअल सिम, कैमरा सेंसर और पिक्सल इसे इस रेंज के लायक बेहतर फोन साबित करता है.
  • लेकिन इतनी कीमत, 172 ग्राम के भारी वजन और 5.7 इंच की फैबलेट वाली बड़ी स्क्रीन के बावजूद इस हैंडसेट में केवल 3,000 एमएएच की ही बैटरी दी गई है. भले ही यह फास्टचार्जिंग को सपोर्ट करती हो लेकिन इतने पैसे खर्च करने वाला कथित हैवी यूजर कुछ घंटों बाद ही इसे आखिरी सांसें लेते देखेगा. इसके अलावा इतनी कीमत के बावजूद क्यूएचडी की जगह फुलएचजी रिजोल्यूशन, कॉर्निंग गोरिल्ला ग्लास 5 की नामौजूदगी, स्टीरियो स्पीकर का अभाव और भारी वजन इसे बेहतर विकल्प नहीं बनाता है.

First published: 19 August 2016, 15:35 IST
 
अमित कुमार बाजपेयी @amit_bajpai2000

पत्रकारिता में एक दशक से ज्यादा का अनुभव. ऑनलाइन और ऑफलाइन कारोबार, गैज़ेट वर्ल्ड, डिजिटल टेक्नोलॉजी, ऑटोमोबाइल, एजुकेशन पर पैनी नज़र रखते हैं. ग्रेटर नोएडा में हुई फार्मूला वन रेसिंग को लगातार दो साल कवर किया. एक्सपो मार्ट की शुरुआत से लेकर वहां होने वाली अंतरराष्ट्रीय प्रदर्शनियों-संगोष्ठियों की रिपोर्टिंग.

पिछली कहानी
अगली कहानी