Home » साइंस-टेक » Why you should not buy Namotel Achche Din Smartphone at Rs. 99
 

क्यों नहीं खरीदना चाहिए 99 रुपये वाला नमोटेल अच्छे दिन स्मार्टफोन

अमित कुमार बाजपेयी | Updated on: 18 May 2016, 17:26 IST

लगता है यह साल सबसे सस्ते स्मार्टफोन लॉन्च करने की होड़ में लगे लोगों के नाम होने वाला है. हालांकि गौर फरमाने वाली बात यह है कि लॉन्च किए गए दुनिया के सबसे सस्ते स्मार्टफोन ग्राहकों को यह मिलते हैं या नहीं.

इस साल लॉन्च किए गए 251 रुपये वाले #Freedom251 और 888 के #Docoss X1 बाद अब बेंगलुरू की एक कंपनी ने नमोटेल अच्छे दिन के नाम से केवल 99 रुपये में दुनिया का सबसे सस्ता स्मार्टफोन लॉन्च कर दिया है.

लेकिन यहां हम आपको इस कथित रूप से सबसे सस्ते स्मार्टफोन से जुड़ी सभी बातों के अलावा यह भी बताने जा रहे हैं कि आपको यह फोन क्यों नहीं खरीदना चाहिए.

भले ही बात 99 रुपये की ही हो और आपको इतने पैसों से कोई फर्क न पड़ता हो लेकिन अगर 1 लाख लोग 99 रुपये देते हैं तो यह रकम 99 लाख और अगर 1 करोड़ लोग 99 रुपये देते हैं तो यह रकम 99 करोड़ रुपये पहुंच जाएगी.

namotel-phone.jpg

नमोटेल कंपनी के प्रमोटर माधव रेड्डी ने एक संवाददाता सम्मेलन में इसकी घोषणा करते हुए कहा कि यह स्मार्टफोन 17 से 25 मई तक प्री बुकिंग के जरिये ऑर्डर देने वालों को मिलेगा. नमोटेल डॉट कॉम (namotel.com) पर इस स्मार्टफोन नमोटेल अच्छे दिन की बुकिंग करानी होगी. 

#Docoss X1: दो माह पुरानी कंपनी कैसे देगी 888 रुपये का स्मार्टफोन?

हालांकि हमने इस वेबसाइट को खोलने की काफी कोशिशें कीं ताकि यह स्मार्टफोन बुक कराया जा सके लेकिन यह खुली नहीं. खबर लिखे जाने तक तमाम बार कोशिशों के बावजूद वेबसाइट नहीं खुली.

Namotel website.jpeg

नमोटेल वेबसाइट का स्क्रीनशॉट

वहीं, इस स्मार्टफोन को खरीदने वालों के लिए कंपनी ने एक शर्त लगा रखी है. इस खरीदने के इच्छुक ग्राहकों को सबसे पहले बीमाईबैंकर डॉट कॉम (www.bemybanker.com) वेबसाइट पर रजिस्टर करना होगा और इस पर यूजर आईडी और पासवर्ड बनाना होगा, जिसके बाद ही वो नमोटेल वेबसाइट पर जाकर इस स्मार्टफोन को बुक कर सकेंगे. 

#Freedom251: इस सस्ते के पीछे कोई झोल है, जांच की अपील

इतना ही नहीं बीमाईबैंकर डॉट कॉम वेबसाइट पर रजिस्टर कराने के लिए ग्राहकों को एक बार लगने वाली लाइफटाइम मेंबरशिप फीस के रूप में 199 रुपये चुकाने होंगे.

वहीं, संवाददाता सम्मेलन में तमाम सवालों के जवाब देते हुए रेड्डी ने आश्वस्त कराया कि नमोटेल अच्छे दिन को बुक कराने वाले ग्राहकों को यह स्मार्टफोन मिलेंगे. उनका यह भी कहना है कि उनकी योजना पूरी तरह से भरोसेमंद है.

chequetel tech.jpeg

चेकटेक टेक्नोलॉजी कंपनी के रजिस्ट्रेशन की जानकारी

आपको बता दें कि 99 रुपये में कथित रूप से ग्राहकों को दिए जाने वाले इस 3G स्मार्टफोन की स्क्रीन 4 इंच की बताई जा रही है. जबकि इसमें 1.3 गीगाहर्ट्ज क्वॉडकोर प्रोसेसर, 1 जीबी रैम और 5.1 एंड्रॉयड लॉलीपॉप वर्जन पड़ा हुआ है.

लेकिन इतनी सस्ती कीमत में स्मार्टफोन उपलब्ध कराने के अलावा इसका नाम नमो (नरेंद्र मोदी) अच्छे दिन (...अच्छे दिन आएंगे) क्यों रखा गया या फिर जानबूझ कर चर्चा बंटोरने के लिए रखा गया, पता नहीं चल सका है. 

#Freedom251: कंपनी ग्राहकों को वापस लौटा रही है बुकिंग राशि

दूसरी तरफ 1 मार्च 2016 को चालू हुई कंपनी वेबसाइट के मुताबिक बेंगलुरू में मुख्यालय वाली यह कंपनी इसी साल शुरू हुई है. बेंगलुरू स्थित चेककट टेक्नोलॉजी के अंतर्गत स्मार्टफोन बनाने की योजना है. यह कंपनी मुंबई, हैदराबाद, दिल्ली और चेन्नई में भी कार्यालय खोलने की संभावना तलाश रही है.

क्यों न खरीदें नमोटेल

Namotel website1.jpeg


  • बताया गया है कि इस स्मार्टफोन की वास्तविक कीमत 2,999 रुपये थी लेकिन ऑफर के अंतर्गत इसे केवल 99 रुपये में उतारा गया है. समझ में नहीं आता कि ऐसा कौन सा ऑफर कंपनी दे रही है.
  • कंपनी की वेबसाइट चल नहीं रही है. इंतजार करने और वक्त बर्बाद करने में कोई फायदा नहीं.
  • दो माह पहले वेबसाइट खोलनेे के बाद इतनी जल्दी दुनिया का सबसे सस्ता मोबाइल देने की बात मजाक ही लगती है.
  • कहा गया है कि इस स्मार्टफोन के देश भर में 575 आधिकारिक सर्विस सेंटर हैं, लेकिन लोगों ने बुधवार को पहली बार ही कंपनी का नाम सुना.
  • पहली बार कोई कंपनी इतना सस्ता और अजीब नाम वाला स्मार्टफोन लेकर आई है. नाम से धोखा मत खाइएगा क्योंकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इसमें मदद नहीं कर रहे हैं. 
  • इससे पहले रिंगिंग बेल्स फ्रीडम 251 और जयपुर की कंपनी डोकॉस X1 888 रुपये कीमत में स्मार्टफोन नहीं दे सकी हैं.
  • कंपनी का कहना है कि यह स्मार्टफोन केवल भारतीय नागरिकों और वैध आधार कार्ड रखने वालों को ही मिलेगा, यह शर्त भी अजीब ही है.
  • कंपनी के प्रमोटर माधव रेड्डी पहले एक बैंक के लोन डिपार्टमेंट में रिलेशनशिप मैनेजर के पद पर काम करते थे और उन्हें स्मार्टफोन इंडस्ट्री का कोई अनुभव नहीं है.
  • स्मार्टफोन की बुकिंग कराने के लिए 199 रुपये देकर बीमाईबैंकर डॉट कॉम पर रजिस्टर करवाना और मोबाइल की कीमत से ज्यादा रकम डिलीवरी के लिए देना वाकई हास्यापद है.
  • नमोटेल की मदर कंपनी चेककट टेक्नोलॉजीज प्रा. लि. की ऑथोराइज्ड कैपिटल एक लाख रुपये है और इसकी स्थापना 29 मई 2015 को बंगलुरू में हुई. सवाल उठना लाजमी है कि एक साल से भी कम वक्त पुरानी कंपनी इतना बड़ा काम कैसे कर सकती है.
  • कंपनी के माधव रेड्डी ने बीते साल एक ही दिन में दो कंपनियां रजिस्टर करवाईं. यानी 29 मई 2015 को ही इन्होंने चेककट टेक्नोलॉजीज प्रा. लि. और प्रॉपमेंटर रिएलिटी प्रा. लि. कंपनी को बतौर निदेशक रजिस्ट्रार ऑफ कंपनीज में पंजीकृत करवाया और दोनों का ऑथोराइज्ड कैपिटल 1-1 लाख रुपये  ही रखा. दोनों के दो निदेशक एक ही व्यक्ति हैं और दोनों का पता भी एक है.
  • बता दें कि चेककट टेक्नोलॉजीज कंपनी के रजिस्ट्रेशन में सॉफ्टवेयर से जुड़े कामकाज करने की ही बात लिखी हुई है. 

First published: 18 May 2016, 17:26 IST
 
अमित कुमार बाजपेयी @amit_bajpai2000

पत्रकारिता में एक दशक से ज्यादा का अनुभव. ऑनलाइन और ऑफलाइन कारोबार, गैज़ेट वर्ल्ड, डिजिटल टेक्नोलॉजी, ऑटोमोबाइल, एजुकेशन पर पैनी नज़र रखते हैं. ग्रेटर नोएडा में हुई फार्मूला वन रेसिंग को लगातार दो साल कवर किया. एक्सपो मार्ट की शुरुआत से लेकर वहां होने वाली अंतरराष्ट्रीय प्रदर्शनियों-संगोष्ठियों की रिपोर्टिंग.

पिछली कहानी
अगली कहानी