Home » साइंस-टेक » Xiaomi users beware, as company requests to not tamper your phone or use third party accessories
 

Xiaomi ने दी चेतावनी, यूजर्स हो जाएं सावधान

कैच ब्यूरो | Updated on: 19 August 2017, 20:14 IST

हाल ही में चीन की प्रमुख तकनीकी कंपनी Xiaomi के स्मार्टफोन फटने को लेकर भारत में दो घटनाएं सामने आईं, जिनकी वजह से यूजर्स अब कंपनी के उत्पादों पर नजर रख रहे हैं. Xiaomi के सबसे ज्यादा बिकने वाले स्मार्टफोन Redmi Note 4 के फटने की घटनाओं के बाद अब कंपनी ने अपने यूजर्स को चेतावनी दी है, जिसके बाद यूजर्स को सावधान रहने की जरूरत है.

Xiaomi ने विभिन्न स्मार्टफोनों के खरीदारों को चेताया है कि वे अपने फोन से छेड़छाड़ न करें और किसी भी तरह के बाहर की एक्सेसरीज का इस्तेमाल न करें. हालांकि इससे पहले भी कंपनी ने सामने आकर अपील की थी कि यूजर्स थर्ड पार्टी चार्जर से Xiaomi के मोबाइल की चार्जिंग न करें

अब ताजा घटना के बाद Xiaomi ने एक बार फिर से लोगों से अपील की है. हाल ही में आंध्र प्रदेश में एक व्यक्ति की पैंट की जेब में रखा Redmi Note 4 फट गया था, जिससे वो घायल भी हो गया.

 

इस घटना की जांच के बाद Xiaomi ने कहा, "इस डिवाइस (फोन) में बहुत ज्यादा बाहरी दबाव लगाया गया था, जिसकी वजह से फोन के बैक कवर और बैटरी के मुड़ने से स्क्रीन डैमेज हो गई." कंपनी अभी भी इस हादसे की आगे की जांच में जुटी हुई है.

इस घटना के बाद कंपनी द्वारा जारी आधिकारिक बयान के मुताबिक, "Xiaomi में ग्राहकों की सुरक्षा हमारी सबसे पहली प्राथमिकता है और हम ऐसे मामलों को सर्वोच्च प्राथमिकता के साथ लेते हैं. हमारी सभी डिवाइसें उच्च मानकों पर रहें इसके लिए कठिन गुणवत्ता जांच से गुजरती हैं."

कंपनी के मुताबिक, "हम यह आंध्र प्रदेश के गोदावरी में हाल ही में हुई घटना के बारे में स्पष्टीकरण देना चाहते हैं. ग्राहक के साथ सप्ताह भर चली चर्चा के बाद हम उस डिवाइस को हासिल कर चुके हैं. पहली नजर में यह खराब डिवाइस देखकर हम इस नतीजे पर पहुंचे कि इसपर बहुत ज्यादा बाहरी दबाव पड़ा था, जिसकी वजह से फोन की बैटरी और बैक कवर मुड़ गया व परिणामस्वरूप फोन की स्क्रीन टूट गई. इस फोन में हुए नुकसान के सटीक कारण की पहचान के लिए इसकी विस्तृत जांच शुरू कर दी गई है."

इसके अलावा कंपनी ने अपने ग्राहकों से अपील की कि वे अपनी डिवाइसों को न खोलें, न ही बैटरी निकाले या डिवाइस पर बाहर का बहुत ज्यादा दबाव न डालें. इसके अलावा लोक और अनाधिकारिक रिपेयर शॉप्स से अपनी डिवाइसों की मरम्मत न करवाएं. अगर ग्राहकों को कोई भी परेशानी आती है तो वो 350 से ज्यादा शहरों में मौजूद 575 आधिकारिक सर्विस सेंटर्स से संपर्क करें या फभी कंपनी को सीधें फोन मिलाएं.

Redmi Note 4 से जुड़े हादसे जानने के लिए यहां क्लिक करें.

First published: 19 August 2017, 20:14 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी