Home » खेल » Asian Games 2018: India Womens Kabaddi team loss in final against iran
 

Asian Games 2018: भारत की महिला कबड्डी टीम गोल्ड से चूकी, ईरान ने लिया हार का बदला

कैच ब्यूरो | Updated on: 24 August 2018, 14:22 IST

इंडोनेशिया के जकार्ता में हो रहे 18 वें एशियाई खेलों में भारत की महिला कबड्डी टीम को ईरान की महिला कबड्डी टीम ने फाइनल में 27- 24 से हरा दिया है. इस हार के साथ ही भारतीय महिला कबड्डी टीम भारत के लिए गोल्ड मेडल से चूक गई है . भारत की महिला कबड्डी टीम ने एशियाई खेलों में अब तक दो मेडल जीते हैं. साल 2014 में हुए फाइनल मुकाबले में भारत की टीम ने ईरान को हराकर गोल्ड जीता था.

एशियाई खेलों में भारत को अब तक 22 मेडल मिल चुके हैं, जिसमें छह गोल्ड, चार सिल्वर और 12 कांस्य पदक हैं. भारत को सबसे ज्यादा शूटिंग में गोल्ड मिले हैं जिसमें आठ मेडल हैं. इससे पहले भारत के रोहन बोपन्ना और दिविज शरण ने शानदार प्रदर्शन करते हुए टेनिस की पुरुष युगल स्पर्धा के फाइनल मुकाबले में कजाकिस्तान के टेनिस प्लेयरों को हराकर भारत को छठा गोल्ड जीत दिलिया था.

ये भी पढ़ें: Asian Games 2018: विश्व चैंपियन भारत पहली बार गोल्ड से चूका, ईरान ने सपना किया चकनाचूर

आज ही भारत को रोइंग की क्‍वाड्रुपल स्‍कल्‍स इवेंट में सवर्ण सिंह, दत्‍तू भोकानल, ओमप्रकाश और सुखबीर सिंह ने देश को स्‍वर्ण पदक दिलाया है. कल महिलाओं की 25 मिटर पिस्टल स्पर्धा में भारत की युवा महिला निशानेबाज राही जीवन सारनाबोत ने गोल्ड जीता जो भारत के लिए चौथा गोल्ड था.

बजरंग पुनिया ने पुरुषों की 65 किलोग्राम भारवर्ग फ्री स्टाइल स्पर्धा के फाइनल में जापान के दाइची ताकातानी को 11-8 से मात देकर एशियन गेम्स में अपना पहला स्वर्ण हासिल किया है. सौरभ ने 10 मीटर एयर राइफल पिस्टल स्पर्धा में गोल्ड मेडल जीता. भारत को सबसे पहला गोल्ड मेडल कुश्ती में बजरंग पुनिया ने दिलाया इसके बाद फिर कुश्ती में ही वीनेश फोगाट ने दूसरा और सौरभ चौधरी ने तीसरा गोल्ड दिलाया.

ये भी पढ़ें: Asian Games 2018: रोहन-शरण ने टेनिस में देश को दिलाया छठा गोल्ड, भारत के पास अब तक आए 22 पदक

First published: 24 August 2018, 14:15 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी