Home » खेल » BCCI sacks Harsha Bhogle from IPL commentary
 

हर्षा भोगले को आईपीएल कमेंट्री से क्यों हटाया गया?

कैच ब्यूरो | Updated on: 13 April 2016, 16:08 IST

इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) सीजन-9 की शुरुआत विवादों के साथ हुई है. मशहूर भारतीय क्रिकेट कमेंटेटर हर्षा भोगले को बिना कारण बताए आईपीएल के कमेंट्री पैनल से हटा दिया गया है.

इस बात की जानकारी खुद हर्षा भोगले ने शनिवार को अपने ट्विटर अकाउंट के जरिए दी. भोगले ने ट्वीट किया, 'आईपीएल 9 का हिस्सा बनकर काफी अच्छा लगता. हकीकत में मैं इस बारे में सोच भी रहा था. यह मेरा पसंदीदा टूर्नामेंट है. उम्मीद करता हूं कि यह सीजन ब्लॉकबस्टर रहे.'

90 के दशक में रेडियो के जरिए क्रिकेट कमेंट्री में अपनी पहचान बनाने 54 वर्षीय हर्षा ने 'द संडे एक्सप्रेस' से कहा है, 'अगर वाकई में इसकी कोई वजह है तो उन्हें मेरा पक्ष भी सुनना चाहिए. मुझे किसी ने कुछ नहीं बताया. मुझे अभी तक किसी ने आधिकारिक तौर पर इसकी वजह नहीं बताई है. सभी ने मुझे यह बताया है कि यह बीसीसीआई प्रबंधन का फैसला है.'

हर्षा को हटाए जाने पर भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) की ओर से दो दिनों बाद भी कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है. हर्षा का नाम आईपीएल ड्राफ्ट ऑक्शन, प्रोमोशनल वीडियोज और कमेंटेटर्स के 51 दिन के ड्यूटी रोस्टर में भी था. यहां तक कि प्रोडक्शन हाउस ने उनके लिए टिकट भी बुक करा दिया था.

आईपीएल के टेलीकास्ट राइट्स सोनी नेटवर्क्स के पास है, लेकिन टूर्नामेंट का प्रोडक्शन का फैसला बीसीसीआई के हाथ में है. मीडिया रिपोर्ट्स में हर्षा को हटाए जाने को लेकर दो तरह कारण बताए जा रहे हैं.

विदर्भ स्टेडियम में बीसीसीआई अधिकारी से झगड़ा

15 मार्च को हुए टी-20 वर्ल्ड कप के पहले सुपरटेन मुकाबले में भारत और न्यूजीलैंड के बीच मैच के दौरान बीसीसीआई अध्यक्ष शशांक मनोहर भी मौजूद थे. भोगले को हिंदी और अंग्रेजी कमेंट्री बॉक्स में मैच के दौरान आना जाना पड़ रहा था. स्टेडियम में दोनों कमेंट्री बॉक्स के बीच बोर्ड अध्यक्ष का केबिन था. चूंकि अध्यक्ष का केबिन बंद था तो भोगले को एक बॉक्स से दूसरे बॉक्स तक जाने के लिए सीढ़ियों से ऊपर-नीचे जाना पड़ रहा था.

इसी बात को लेकर भोगले की बहस एक बीसीसीआई अधिकारी से हो गई. कहा जा रहा है कि इस घटना की जानकारी बोर्ड अध्यक्ष शशांक मनोहर तक पहुंच गई. मनोहर खुद नागपुर के रहने वाले हैं. सूत्रों का कहना है कि इसी वजह से हर्षा को हटाने का फैसला लिया गया.

अमिताभ-धोनी थे नाराज

टी-20 वर्ल्ड कप में बांग्लादेश के खिलाफ भारतीय टीम मुश्किल से जीत हासिल कर पाई थी. मैच जीतने के बाद अभिनेता अमिताभ बच्चन ने बिना नाम लिए भोगले की कमेंट्री पर निशाना साधा था जिसका समर्थन भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने भी किया था.

24 मार्च को हुए मैच के बाद अमिताभ ने ट्वीट किया था, 'मैं सम्मान के साथ कहना चाहता हूं कि एक भारतीय कमेंटेटर को पूरे समय दूसरे खिलाड़ियों की चर्चा की बजाय अपने खिलाड़ियों की तारीफ करनी चाहिए.'

इस ट्वीट पर धोनी ने अमिताभ को टैग करते हुए लिखा, ‘कुछ भी कहने की जरूरत नहीं.’

ट्वीट के कुछ ही देर बाद भोगले कमेंट किया, 'मैंने ये ऑन एयर कमेंट्री के दौरान कहा और फिर से कहता हूं. ये बांग्लादेश प्लेयर्स का बेस्ट ग्रुप है. ये बांग्लादेश की सबसे बढ़िया टीम है.'

हर्षा भोगले 2008 से ही आईपीएल से जुड़े हुए थे.

First published: 13 April 2016, 16:08 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी