Home » खेल » Canada Open: Sai Praneeth, Attri-Reddy win titles
 

कनाडा ओपन बैडमिंटन: प्रणीत को सिंगल्स और मनु-सुमित को डबल्स का खिताब

कैच ब्यूरो | Updated on: 4 July 2016, 16:01 IST
(एएफपी)

कनाडा ओपन बैडमिंटन टूर्नामेंट में भारत को दोहरी कामयाबी मिली है. भारतीय शटलर चौथी वरीयता प्राप्त बी साई प्रणीत ने कमाल का प्रदर्शन करते हुए पुरुष एकल का फाइनल जीतकर कनाडा ओपन बैडमिंटन टूर्नामेंट का खिताब अपने नाम किया है. 

इसके अलावा रियो में देश का प्रतिनिधित्व करने जा रही मनु अत्री और बी सुमित रेड्डी की शीर्ष वरीयता प्राप्त जोड़ी पुरुष डबल्स में फाइनल जीतकर 55 हजार डॉलर की इनामी राशि वाले कनाडा ओपन में चैंपियन बन गई है.

23 वर्षीय प्रणीत ने मार्किन मैकफेल सेंटर में ग्रैंड प्रिक्स टूर्नामेंट के फाइनल में रविवार को कोरिया के ली ह्यून को 21-12, 21-10 से मात दी.

वहीं पुरुष युगल में मनु और सुमित की शीर्ष वरीयता वाली जोड़ी ने मेजबान कनाडा के एड्रियन लू और टोबी एनजी की गैर वरीयता जोड़ी को 25 मिनट में 21-8, 21-14 से हराकर युगल का खिताब अपने नाम किया.

चोटों की वजह से प्रणीत का करियर बहुत प्रभावित हुआ है. इसके बावजूद वे बीच-बीच में बैडमिंटन जगत में अपनी छाप छोड़ने में कामयाब रहे हैं. जून 2013 में उन्होंने थाइलैंड ओपन में पूर्व ऑल इंग्लैंड चैंपियन मोहम्मद हाफिज हाशिम (मलेशिया) को हराया था.

प्रणीत ने इस वर्ष ऑल इंग्लैंड चैंपियनशिप में दो बार के ओलंपिक रजत पदक विजेता ली चोंग वेई को पहले ही दौर में हराकर सबको चौंकाया था. उसी वर्ष इंडोनेशिया ओपन के पहले ही राउंड में पूर्व विश्व और ओलंपिक चैंपियन इंडोनेशिया के तौफीक हिदायत की छुट्टी कर दी थी.

रियो ओलंपिक में जगह बनाने वाली मनु अत्री और बी सुमित रेड्डी की जोड़ी

दूसरी ओर पुरुष युगल में शीर्ष वरीयता प्राप्त मनु और सुमित की जोड़ी को भी मेजबान कनाडाई जोड़ी कोई चुनौती नहीं दे सकी और फाइनल में एड्रियन लियू व टोबी एनजी की स्थानीय जोड़ी को 21-8, 21-14 से शिकस्त दी. मनु-सुमित पुरुष युगल में ओलंपिक के लिए क्वालीफाई करने वाली पहली भारतीय जोड़ी हैं.

टूर्नामेंट में अन्य खिलाड़ियों में अजय जयराम, एच एस प्रणय, तन्वी लाड, रुत्विका शिवानी, हर्षील दानी, मनु अत्री और अश्विनी पोनप्पा, जे मेघना और पूर्विशा राम ने भी चुनौतियां पेश की थीं.

First published: 4 July 2016, 16:01 IST
 
अगली कहानी