Home » खेल » Chennai Super Kings Won but ms dhoni looks captain cool when csk player enjoy victory over srh in IPL 2018 final
 

IPL 11: धोनी को फिर से दिल देना है तो इस वीडियो को जरूर देखिए

विकाश गौड़ | Updated on: 28 May 2018, 0:09 IST

साल 2007 का T20 वर्ल्डकप, 2010 का IPL और चैंपियंस लीग T20 फाइनल, 2011 का वर्ल्डकप, 2011 का ही IPL फाइनल, साल 2013 की आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी फाइनल, साल 2014 की चैंपियंस लीग T20 का फाइनल और अब IPL 2018 का फाइनल. ये सभी मुकाबले एमएस धोनी की अगुवाई में हुए हैं जिनमें या तो टीम इंडिया ने या फिर चेन्नई सुपर किंग्स ने बाजी मारी है.

लेकिन इस बीच जो एक सवाल उठता है वह यह है कि एमएस धोनी ने अपनी टीमों को इतने खिताब जिताए हैं लेकिन वो हमेशा अपने कूल अंदाज में ही नजर आते हैं. ये भी सच है कि वह मैदान पर कैप्टन कूल हैं लेकिन जब कोई आप इतना बड़ा खिताब जीतते हैं तो जश्न मनाना बनता है लेकिन धोनी हैं कि वो कूल नजर आते हैं.

ऐसा ही कुछ आईपीएल 2018 के फाइनल में देखा गया जब एमएस धोनी की ही कप्तानी वाली टीम चेन्नई सुपर किंग्स ने सनराइजर्स हैदराबाद को 8 विकेट से पीट दिया. इसी के साथ सीएसके ने आईपीएल की तीसरी ट्रॉफी अपने नाम कर ली. ऐसे में जश्न मनना धोनी के लिए लाजमी था लेकिन वह कूल अंदाज में नजर आए.

दरअसल, जैसे ही अंबाती रायडू ने जीत का चौका लगाया वैसे ही चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाड़ी मधुमक्खी की तरह मैदान की ओर दोड़ पड़े जहां रायडू और शेन वॉटसन गले मिल रहे थे. सभी ने अपने-अपने अंदाज में बधाई दी और जश्न मनाया लेकिन धोनी डग आउट से हिले भी नहीं बाद में वह मैदान और बढ़े और साथी खिलाड़ियों की जीत की बधाई देते नजर आए.

एमएस धोनी की यही बात उनको महान बनाती है और लोग उनके मुरीद हो जाते हैं. मौजूदा समय में एमएस धोनी की लोकप्रियता इतनी है कि वह हाल ही में हुए एक सर्वे में आईपीएल 2018 के सबसे पसंदीदा खिलाड़ी चुने गए हैं, जबकि विराट कोहली इस मामले में दूसरे नंबर पर हैं.

शेन वॉटसन की शतकीय पारी की बदौलत सीएसके ने इस मैच को 8 विकेट से जीत लिया. इसी के साथ एमएस धोनी की अगुवाई वाली टीम आईपीएल की सबसे ज्यादा ट्रॉफियां (तीन) जीतने वाली संयुक्त रूप से पहली टीम बन गई. बता दें कि मुंबई इंडियंस के अलावा सीएसके खेमे में भी अब आईपीएल की तीन ट्रॉफियां हो गई हैं.

179रनों का लक्ष्य और इस सीजन का बेस्ट बॉलिंग अटैक सीएसके के लिए चुनौती भरा था. ये लक्ष्य मुश्किल तब लगा जब शेन वॉटसन अपने रंग में नहीं दिखाई दिए और फाफ डुप्लेसी भी जल्दी आउट हो गए लेकिन बाद में शेन वॉटसन ने रैना के साथ पारी को आगे बढ़ाते हुए गियर बदला और 51 गेदों में सेंचुरी ठोक दी. शेन वॉटसन ने 57 गेंदों में नाबाद 117 रन बनाए, जिसमें 11 चौके और 8 छक्के शामिल रहे.

बता दें कि सनराइजर्स हैदराबाद ने पहले बल्लेबाजी करते हुए निर्धारित 20 ओवर में 6 विकेट के नुकसान पर 178 रन बनाए हैं. इसके बाद सीएसके को 179 रन का लक्ष्य मिला था. हैदराबाद की तरफ से इस पारी में कप्तान केन विलियमसन ने 47 रन, यूसुफ पठान ने नाबाद 45 रन और शिखर धवन ने 26 रनों का योगदान दिया.

First published: 28 May 2018, 0:09 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी