Home » खेल » Commonwealth Games 2018: india put on hattrick of gold weightlifter sathish shivlingam won gold medal
 

कॉमनवेल्थ गेम्स: वेटलिफ्टरों ने लगाई गोल्ड की हैट्रिक, सतीश शिवलिंगम ने जीता सोना

कैच ब्यूरो | Updated on: 7 April 2018, 10:51 IST

कॉमनवेल्थ गेम्स में भारतीय वेटलिफ्टरों का शानदार प्रदर्शन जारी है. वेटलिफ्टर सतीश कुमार शिवलिंगम ने शनिवार को 77 किग्रा कैटेगरी में गोल्ड जीता. उन्होंने कुल 317 (स्नैच में 144 और क्लीन एंड जर्क 173) किग्रा वजन उठाया. इससे पहले संजीत चानू और मीराबाई चानू ने गोल्ड मेडल जीते थे.

यह इन खेलों में तीसरा गोल्ड और कुल मिलाकर पांचवां पदक है. भारत को ये सभी पदक वेटलिफ्टिंग में ही मिले हैं. संजीता चानू और मीराबाई चानू के गोल्ड के अलावा पी गुरुराजा ने सिल्वर और दीपक लाथर ने ब्रॉन्ज मेडल भारत के नाम कराया है. इसके साथ ही भारत मेडल टैली में तीसरे स्थान पर पहुंच गया है. पहले स्थान पर ऑस्ट्रेलिया और दूसरे पर इंग्लैंड हैं.

 

सतीश ने स्नैच में अपने पहले प्रयास में 136 किलोग्राम वजन उठाया था, इसके बाद 140 और अपने आखिरी प्रयास में 144 किलो भार उठाया. स्नैच के बाद वह हालांकि इंग्लैंड के जैक ओलिवर से एक किलोग्राम पीछे रहे थे जिन्होंने 145 किलोग्राम सर्वश्रेष्ठ भार उठाया था.

स्नैच में एक किलो से आगे रहने वाले ओलिवर हालांकि क्लीन ऐंड जर्क में अपना प्रदर्शन दोहरा नहीं पाए. उन्होंने पहले प्रयास में 167 किलोग्राम वजन उठाया हालांकि इसके बाद के दोनों प्रयास 171 किलोग्राम वजन के उनके प्रयास असफल रहे. वह कुल मिलाकर 312 किलोग्राम वजन ही उठा पाए, जिसकी वजह से उन्हें सिल्वर मेडल मिला.

 

वहीं ऑस्ट्रेलिया के फ्रांसिस इताउंदी ने 305 किलोग्राम (स्नैच 136 किलोग्राम, क्लीन ऐंड जर्क 169 किलोग्राम) के साथ ब्रॉन्ज मेडल जीता.

पढ़ें- CWG 2018: देश की झोली में तीसरा पदक, वेटलिफ्टिंग में संजीता चानू ने दिलाया स्वर्ण

इससे पहले बीते साल ऑस्ट्रेलिया में ही खेले गए कॉमनवेल्थ चैंपियनशिप में उन्होंने कुल 320 किलोग्राम (148 किलोग्राम, 172 किलोग्राम क्लीन ऐंड जर्क) का वजन उठाकर गोल्ड मेडल जीता था. सतीश ने 2014 के ग्लास्गो कॉमनवेल्थ गेम्स में भी गोल्ड मेडल जीता था. इस दौरान उन्होंने स्नैच में 149 किलोग्राम भार उठाकर कॉमनवेल्थ गेम्स का रिकॉर्ड बनाया था.

First published: 7 April 2018, 8:31 IST
 
अगली कहानी