Home » खेल » Dipa Karmakar Could Also Be Conferred With Khel ratna
 

रियो ओलंपिक में कांस्य से चूकने वाली दीपा को मिल सकता है खेल रत्न

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 February 2017, 1:48 IST
(कैच न्यूज)

रियो ओलंपिक में जिमास्टिक की वॉल्ट स्पर्धा में चौथा स्थान हासिल कर इतिहास रचने वाली महिला जिम्नास्ट दीपा कर्माकर को इस साल  'खेल रत्न' से नवाजा जा सकता है. वहीं उनके कोच बिसेश्वर नंदी को भी द्रोणाचार्य अवॉर्ड मिल सकता है.

दीपा के अलावा भारतीय टेस्ट कप्तान विराट कोहली, एशियाई खलों की रजत पदक विजेता टिंटू लूका और शूटर जीतू राय को भी खेल रत्न' का प्रबल दावेदार माना जा रहा है. खेल रत्न के विशेष नियमों के मुताबिक विशेष परिस्थितियों में यह पुरस्कार एक से ज्यादा खिलाड़ी को भी दिया जा सकता है.

गौरतलब है कि दीपा 52 वर्षों बाद ओलंपिक में उतरने वाली पहली भारतीय जिम्नास्ट और रियो के लिए क्वालीफाई करने वाली एकमात्र जिमनास्ट थीं. दीपा ने फाइनल में 15.066 के औसत स्कोर के साथ चौथा स्थान हासिल किया और वे कांस्य पदक से चूक गईं.

23 वर्षीय दीपा की इस उपलब्धि ने उन्हें देश के सर्वोच्च खेल पुरस्कार राजीव गांधी खेल रत्न के लिए प्रबल दावेदार बना दिया है. खेल रत्न, अर्जुन और द्रोणाचार्य पुरस्कार 29 अगस्त को खेल दिवस के दिन राष्ट्रपति भवन में राष्ट्रपति प्रदान करते हैं. सरकार के खेल रत्न के मामले में दिशा-निर्देश साफ हैं कि ओलंपिक वर्ष की विशेष परिस्थितियों में एक से ज्यादा खिलाड़ी को खेल रत्न दिया जा सकता है.

आम तौर पर जुलाई के अंत या अगस्त की शुरुआत में इन पुरस्कारों के लिए समिति गठित कर दी जाती है. लेकिन पांच से 21 अगस्त तक रियो ओलंपिक होने के कारण इस बार समिति का गठन नहीं किया गया और पुरस्कारों का मामला ओलंपिक की समाप्ति तक टाल दिया गया.

First published: 17 August 2016, 4:21 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी