Home » खेल » former selector team india sandeep patil, if sachin not taking retirement, i am not selected them
 

संदीप पाटिल: अगर सचिन संन्यास नहीं लेते, तो उन्हें टीम से निकाल देता

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 February 2017, 1:47 IST
(एजेंसी)

टीम इंडिया के पूर्व मुख्य चयनकर्ता संदीप पाटिल ने पद से हटते ही दो बड़े सनसनीखेज बयान दिए हैं. संदीप पाटिल ने मराठी समाचार चैनल एबीपी माझा को दिए एक इंटरव्यू में कहा, "अगर सचिन तेंदुलकर रिटायरमेंट का एलान नहीं करते, तो हम उन्हें ड्रॉप कर देते".

इसके साथ ही पाटिल ने कहा, "कई मौकों पर हमने महेंद्र सिंह धोनी को कप्तानी से हटाने के बारे में बात की थी, पर धोनी का उससे पहले ही टेस्ट से रिटायरमेंट लेना हमारे लिए शॉकिंग था."

पाटिल ने कहा "12 दिसंबर 2012 को हम सारे चयनकर्ता नागपुर में सचिन से मिले और उनसे उनके भविष्य की योजना के बारे में पूछा."

पाटिल ने आगे कहा, ''हालांकि हम लोगों के बीच सचिन के रिटायरमेंट को लेकर एक आम सहमति बन गई थी और हमने इसके बारे में बोर्ड को भी सूचित कर दिया था.''

'हमारी सोच सचिन समझ चुके थे'

पाटिल के मुताबिक, ''शायद हमारी सोच और सहमति के बारे में सचिन समझ चुके थे और अगली बैठक में ही उन्होंने कहा कि वो वनडे से रिटायरमेंट के बारे में सोच रहे हैं. अगर सचिन रिटायरमेंट का फैसला नहीं लेते तो हम उन्हें जरूर टीम से निकाल देते.''

उनके इस खुलासे के बाद जब पूछा गया कि क्या चयनकर्ताओं ने सचिन पर रिटायरमेंट के लिए दबाव बनाया था?

पाटिल ने कहा, ''हमने सचिन पर रिटायरमेंट लेने का दबाव बनाया या नहीं, यह सीक्रेट ही रहे तो बेहतर है. हम चयनकर्ता केवल बीसीसीआई के प्रति ही जवाबदार हैं. मीडिया हमसे कुछ उगलवा नहीं सकेगा.'' 

'2015 में धोनी को हटाने की सोच रहे थे'

गौरतलब है कि दिसंबर 2012 में सचिन ने वनडे क्रिकेट से संन्यास ले लिया था. सचिन 16 नवंबर, 2013 को आखिरी बार इंटरनेशनल मैच के लिए मैदान पर थे.

मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में सचिन ने वेस्ट इंडीज के खिलाफ अपना आखिरी टेस्ट खेला था. इसमें उन्होंने 74 रन बनाए थे. इससे पहले जनवरी 2011 से सचिन ने टेस्ट में कोई सेन्चुरी नहीं लगाई थी.

संदीप पाटिल ने सचिन तेंदुलकर के अलावा धोनी को लेकर भी बड़ा खुलासा किया. पाटिल ने कहा, "हम उन्हें कप्तानी से हटाने के बारे में सोच रहे थे, लेकिन उस वक्त 2015 का वर्ल्ड कप सामने था, इसीलिए हमने कोई फैसला नहीं लिया."

First published: 22 September 2016, 12:56 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी