Home » खेल » Goa officials suspended from BCCI posts
 

गोवा क्रिकेट एसोसिएशन के अध्यक्ष चेतन देसाई निलंबित

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 February 2017, 1:49 IST

गोवा क्रिकेट एसोसिएशन (जीसीए) के अध्यक्ष चेतन देसाई और सचिव विनोद फड़के को भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने उनके पदों से निलंबित कर दिया है.

मंगलवार को देसाई, फड़के और जीसीए के कोषाध्यक्ष अकबर मुल्ला को पुलिस ने संस्था के तीन करोड़ रुपये की कथित हेराफेरी के आरोप में गिरफ्तार किया है.

चेतन देसाई जीसीए के अध्यक्ष के अलावा बीसीसीआई के मार्केटिंग कमिटी के चेयरमैन भी हैं. वहीं फड़के बोर्ड के सूचना एवं तकनीक समिति के सदस्य हैं. दोनों को बीसीसीआई ने उनके पदों से निलंबित कर दिया.

3.13 करोड़ की धोखाधड़ी का मामला

गोवा पुलिस की आर्थिक अपराध शाखा (ईओडब्ल्यू) ने देसाई, फड़के और अकबर मुल्ला के खिलाफ तीन जून को 3.13 करोड़ रुपये की कथित धोखाधड़ी के संबंध में प्राथमिकी दर्ज की थी.

गौरतलब है कि जीसीए के आजीवन सदस्य विलास देसाई ने चेतन देसाई और दो अन्य पर जाली हस्ताक्षर करने का आरोप लगाते हुए शिकायत दर्ज कराई थी. विलास देसाई का आरोप है कि कि इन्होंने जीसीए की धनराशि बेईमानी से निकालने के लिये बैंक खाते खोले थे.

फर्जी दस्तखत से पैसे निकालने का आरोप

इन तीनों अधिकारियों पर आरोप है कि अक्टूबर 2006 में बीसीसीआई की तरफ से मीडिया राइट्स की रकम में से हिस्सेदारी के तौर पर जीसीए को दिए गए करीब 2.87 करोड़ रुपये फर्जी हस्ताक्षरों से निकाला गया है.

यह फर्जीवाड़ा 2007 में एक गलत बैंक अकाउंट खोलकर मार्च 2008 में उसमें पैसे ट्रांसफर करने के बाद वहां से अन्य खातों में ट्रांसफर करते हुए अंजाम दिया गया. आरोप है कि इसके अलावा भी क्रिकेट बोर्ड के अधिकारियों ने 26 लाख रुपये की एक रकम ऐसे ही गबन कर ली.

जीसीए के सचिव विनोद फड़के 2015 में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ वनडे सीरीज के लिए टीम इंडिया के मैनेजर रहे थे. इसके अलावा 2012 में वह अंडर-19 वर्ल्ड कप में टीम के मैनेजर के रुप में गए थे.

First published: 18 June 2016, 4:15 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी