Home » खेल » Hockey india demands unconditional written apology from pakistan hockey
 

हॉकी इंडिया: चैंपियंस ट्रॉफी की घटना के लिए पाक मांगे लिखित माफ़ी, तभी खेलेंगे सीरीज

कैच ब्यूरो | Updated on: 31 January 2017, 13:14 IST

हॉकी इंडिया (एचआई) ने स्पष्ट किया है कि वह पाकिस्तान के साथ तब तक कोई द्विपक्षीय सीरीज नहीं खेलेगा, जब तक पाकिस्तान हॉकी महासंघ (पीएचएफ) 2014 चैम्पियंस ट्रॉफी के दौरान अपने खिलाड़ियों के गैर पेशेवर व्यवहार के लिए बिना शर्त लिखित माफी नहीं मांगता.

एचआई का बयान पाकिस्तान हॉकी महासंघ (पीएचएफ) के सचिव शाहबाज अहमद के उस बयान के बाद आया है जिसमें उन्होंने कहा है कि भारत ने चैम्पियंस ट्रॉफी में भुवनेश्वर के कलिंगा स्टेडियम में हुए व्यवहार का बदला लेते हुए पिछले साल लखनऊ में हुए जूनियर विश्व कप के लिए पाकिस्तान खिलाड़ियों को वीजा देने से मना कर दिया था.

इसके जवाब में हाकी इंडिया ने सोमवार को एक बयान में कहा कि पाकिस्तान के विश्व कप में नहीं भाग लेने का एकमात्र कारण उनकी वीजा के लिए देरी से आवेदन करना था. एचआई ने कहा है कि पीएचएफ ने भारतीय सरकार के नियम के मुताबिक 60 दिन से पहले वीजा की अर्जी दाखिल नहीं की थी.

एचआई के प्रवक्ता आरपी सिंह ने कहा है कि, "यह शर्म की बात है कि पीएचएफ ने एक बार फिर एफआईएच चैम्पियंस ट्रॉफी-2014 में पाकिस्तान हॉकी टीम के बुरे व्यवहार का मुद्दा उठाया है और जूनियर हॉकी विश्व कप में पाकिस्तान टीम के न खेलने की खुद की गलती के लिए हॉकी इंडिया को जिम्मेदार ठहराया है."

उन्होंने कहा, "पाकिस्तान की इस हरकत को देखकर एचआई ने एक बार फिर तय किया है कि वह पाकिस्तान के खिलाफ तब तक कोई द्विपक्षीय श्रृंखला नहीं खेलेगी जब तक वह अपने चैम्पियंस ट्रॉफी-2014 में किए गए बुरे और गैर-पेशेवर व्यवहार पर लिखित माफी नहीं मांगता." एचआई ने कहा है कि पीएचएफ को आरोप लगाने के बजाए अंतर्राष्ट्रीय हॉकी महासंघ (एफआईएच) में अपनी शिकायत दर्ज करानी चाहिए.

गौरतलब है कि भुवनेश्वर में आयोजित चैम्पियंस ट्राफी सेमीफाइनल के दौरान पाकिस्तानी खिलाड़ियों ने भारत के खिलाफ मुकाबला जीतने के बाद अपनी टी शर्ट निकाल दी थी और दर्शकों की ओर अश्लील इशारे किए थे. हालांकि हाकी इंडिया ने कहा कि पाकिस्तान के विश्व कप में नहीं भाग लेने का एकमात्र कारण उनकी वीजा के लिए देर से आवेदन करना था.

First published: 31 January 2017, 13:14 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी