Home » खेल » Catch Hindi: in australia pink ball for day night test cricket
 

ऑस्ट्रेलियाः गुलाबी गेंद से होगा डे-नाइट टेस्ट क्रिकेट मैच

कैच ब्यूरो | Updated on: 11 February 2016, 19:49 IST

वेलंटाइन डे के मौसम में क्रिकेट के दीवानों के लिए एक रूमानी खुशखबरी है. अब वो क्रिकेट में गुलाबी गेंद से खेल होते देख सकेंगे.

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में आम तौर पर लाल या सफेद गेंदों का ही प्रयोग होता है. लेकिन ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट बोर्ड ने अपनी घरेलू शेफील्ड शील्ड टेस्ट क्रिकेट में गुलाबी गेंदों का प्रयोग करने का फैसला किया है. इस बाल की सिलाई परंपरागत सफेद धागों के बजाय काले धागों से होगी.

पढ़ेंः वर्ल्ड कप के लिए टीम इंडिया का ऐलान

गुलाबी गेंद का पहली बार नवंबर, 2015 में प्रयोग किया गया था. ये गेंद ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड के बीच हुए पहले डे-नाइट टेस्ट मैच में प्रयोग की गई थी. उस समय कुछ खिलाड़ियों ने कहा था कि कुछ मौकों पर गेंद को देखने में उन्हें दिक्कत पेश आ रही थी.

क्रिकेट आस्ट्रेलिया के प्रमुख सीन कैरी ने बुधवार को ये जानकारी दी. गुलाबी गेंद का प्रयोग ब्रिसबेन, एडिलेड और पर्थ में होने वाले मैचों में होगा.

कैरी ने बताया, "पहले डे-नाइट शील्ड राउण्ड मैच में खेलने वाले खिलाड़ियों और एडिलेड में हुए मैच के अनुभवों को ध्यान में रखते हुए नई गेंद बनायी गई है. गेंद ठीक से दिखे इसीलिए इस बार इसमें काले धागे का प्रयोग किया गया है."

पढ़ेंः जानिए क्या थे इन 10 क्रिकेटर्स के पुराने धंधे

नवंबर, 2015 में ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड के बीच हुए दुनिया के पहले डे-नाइट टेस्ट मैच को देखने के लिए पूरा स्टेडियम दर्शकों से भर गया था. हालांकि वो मैच तीन दिनों में ही खत्म हो गया था.

क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया हर साल गर्मियों में डे-नाइट टेस्ट मैच कराने की योजना बना रहा है. जिसपर वो पाकिस्तान और दक्षिण अफ्रीका से बात भी कर रहा है.

ये गेंद कैसे बनती है इससे जुड़ा वीडियो आप नीचे देख सकते हैं-

First published: 11 February 2016, 19:49 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी