Home » खेल » IND vs AUS Mohammed Shami and I must take more responsibility in ODIs: Umesh Yadav
 

IND vs AUS: मैच की शुरुआत से पहले उमेश यादव ने दिया बड़ा बयान...

कैच ब्यूरो | Updated on: 1 October 2017, 10:42 IST

आॅस्ट्रेलिया के खिलाफ खेले गए चौथे वनडे मैच में अच्छा प्रदर्शन नहीं करने पर भारतीय टीम के तेज गेंदबाज उमेश यादव ने कहा कि उन्हें और उनके साथ मोहम्मद शमी को सीनियर खिलाड़ी होने के नाते ज्यादा जिम्मेदारी लेने की जरूरत है. 

आॅस्ट्रेलिया ने बेंगुलरू में खेले गए चौथे वनडे मैच में भारत के सामने 335 रनों की चुनौती रखी थी, लेकिन मेजबान टीम पूरे 50 ओवर खेलने के बाद आठ विकेट के नुकसान पर 313 रन ही बना सकी थी और 21 रनों से मैच हार गई थी. सिरीज के पांचवें और आखिरी मैच में रविवार को दोनों टीमें यहां के विदर्भ क्रिकेट स्टेडियम में आमने-सामने होंगी.

मैच से पहले संवाददाता सम्मेलन में उमेश ने कहा, "मुश्किल से मिलने वाली हार के बाद भी टीम का मनोबल अच्छा है. मेरा मानना है कि हमने 15-20 रन ज्यादा दे दिए थे. शमी और मैं काफी दिनों बाद खेले, लेकिन सीनियर होने के नाते हमें जिम्मेदारी लेनी होगी. हमें वो करना होगा जो टीम हमसे चाहती है. शमी और मुझे अंतिम ओवरों में ज्यादा जिम्मेदारी लेनी होगी."

उमेश ने हालांकि पिछले मैच में चार विकेट अपने नाम किए थे लेकिन उन्होंने शुरुआत में काफी रन भी लुटाए थे. इसी मैच में वनडे क्रिकेट में 100 विकेट पूरा करने वाले उमेश खेल के लंबे प्रारूप में खेलना ज्यादा पसंद करते हैं. टेस्ट में वह टीम की पहली पसंद भी हैं. उन्होंने कहा, "मैं वनडे से ज्यादा टेस्ट मैच खेलना पसंद करता हूं. आपको टेस्ट में अपनी रणनीति को लागू करने के लिए पर्याप्त समय मिल जाता है. पांच दिनों के भीतर आपके पास अलग-अलग स्थिति होती हैं इसलिए मुझे वो चुनौती पसंद है. यह आपको आत्मविश्वासी बनाती है इसलिए टेस्ट खेलते हुए मुझे खुशी होती है."

इस तेज गेंदबाज ने कहा, "वनडे में आपके पास अपनी रणनीति को लागू करने का ज्यादा समय नहीं होता है, लेकिन मेरे करियर के इस पड़ाव पर, मैं फैसला नहीं ले सकता. मेरी सोच है कि मुझे जिस प्रारूप में मौका मिले खेलना चाहिए."

चौथे वनडे मैच में टीम प्रबंधन ने भुवनेश्वर कुमार और जसप्रीत बुमराह को आराम देकर शमी तथा उमेश को मौका दिया था. उमेश ने कहा, "अगर ज्यादा टेस्ट मैच होते हैं तो आप चुन सकते हो, लेकिन आप यह नहीं कह सकते कि मैं सिर्फ टेस्ट क्रिकेट ही खेलूंगा, क्योंकि ऐसा भी समय आता है जब आप सीजन में ज्यादा नहीं खेलते हो. आप खाली समय में क्या करोगे? खिलाड़ियों को मैच अभ्यास की जरूरत है." टेस्ट मैच में हिस्सा लेने के बाद उमेश को श्रीलंका के खिलाफ खेली गई वनडे सिरीज में आराम दिया गया था.

उन्होंने कहा, "यह तेज गेंदबाजों के लिए अच्छी बात है. अगर आप लगातार टेस्ट खेलते हैं तो यह तेज गेंदबाजों के लिए बुरा है. आप उपमहाद्वीप में खेल रहे हो और यहां लगातार खेलना शरीर के लिए मुश्किल है. इसके बाद हमारे लिए वापस आना और उसी ऊर्जा से वनडे में खेलना मुश्किल होता है. इसलिए आराम सही विकल्प है. इससे आपको उन छोटी-छोटी परेशानियों से बचने का मौका मिल जाता है जो आपको महीनों तक बाहर रख सकती हैं.

First published: 1 October 2017, 10:41 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी