Home » खेल » India's top sporting moments in 2016
 

साल 2016 में खेलों की दुनिया में भारत को मिले ये गौरवान्वित क्षण

कैच ब्यूरो | Updated on: 29 December 2016, 16:23 IST
(कैच न्यूज)

रियो ओलंपिक में भारत का कुछ खास प्रदर्शन तो नहीं रहा लेकिन भारत की बेटियों ने पदक जीतकर देश का मान जरुर बढ़ाया. बैडमिंटन में भारत की पीवी सिंधू ने रजत पदक जीतकर इतिहास रच दिया.

सिंधू साइना नेहवाल के बाद ओलंपिक में पदक जीतने वाली दूसरी महिला बैडमिटंन खिलाड़ी बनीं. सिंधू को इस साल देश के सर्वोच्च खेल पुरस्कार राजीव गांधी खेल रत्न अवार्ड से भी नवाजा गया.

सिंधू साल 2016 की सबसे लोकप्रिय भारतीय खिलाड़ी रहीं. गूगल द्वारा जारी रिपोर्ट के अनुसार सिंधू इंटरनेट पर सबसे ज्यादा सर्च की जाने वाली भारतीय खिलाड़ी बनीं. उन्होंन सचिन तेंदुलकर, महेंद्र सिंह धोनी और विराट कोहली जैसे खिलाड़ियों को पीछे छोड़ दिया.

रियो ओलंपिक में दूसरा पदक साक्षी मलिक ने जीता. साक्षी ने कुश्ती में कांस्य पदक जीतकर इतिहास रच दिया. साक्षी मलिक ओलिंपिक में पदक जीतने वाली पहली भारतीय महिला पहलवान बनीं.साक्षी को रेपचेज के पहले राउंड में किर्गिस्तान की पहलवान एसुलू तिनिवेकोवा से 0-5 से हार का सामना करना पड़ा. दूसरे राउंड में साक्षी ने जबरदस्त वापसी करते हुए इस मुकाबले को 8-5 से जीतकर इतिहास रच दिया. साक्षी को खेलों में उनके योगदान के लिए इस साल राजीव गांधी खेल रत्न अवार्ड से नवाजा गया.

भारत की टेनिस स्टार सानिया मिर्जा ने इस साल ऑस्ट्रेलियन ओपन खिताब अपने नाम किया. महिला युगल वर्ग में सानिया मिर्जा ने स्विटजरलैंड की मार्टिना हिंगिस के साथ मिलकर चेक गणराज्य की सातवीं वरियता प्राप्त जोड़ी एंड्रिया लावाकोवा और लूसी हराडेका को हराकर अपना तीसरा ग्रैंड स्लैम खिताब जीता. सानिया मिर्जा को इस साल भारत के सर्वोच्च नागरिक सम्मान पद्म भूषण से सम्मानित किया गया. उन्होंने साल का समापन नंबर एक विश्व रैंकिंग के साथ किया. 

ओलंपिक के बाद रियो डी जेनेरियो में ही 7 से 18 सितंबर के बीच रियो पैरालिम्पिक खेलों का आयोजन हुआ. इसमें भारत की झोली में चार पदक आए. रियो पैरालिम्पिक में हाईजंप  में तमिलनाडु के रहने वाले थंगावेलु मरियप्पन ने स्वर्ण पदक जीता. वहीं यूपी के वरुण सिंह भाटी ने इसी इवेंट में कांस्य पदक अपने नाम किया. 

टी-42 वर्ग की प्रतियोगिता में थंगावेलु ने 1.89 मीटर ऊंची छलांग लगाकर स्वर्ण पदक पर कब्जा जमाया तो भाटी 1.86 मीटर की छलांग लगाने में सफल रहे. केंद्र सरकार की ओर से मरियप्पन को 75 लाख रुपये का पुरस्कार दिया गया.

रियो पैरालिम्पिक खेलों में ही राजस्थान के रहने वाले देवेंद्र झाझरिया ने जैवेलिन थ्रो में स्वर्ण पदक जीता. देवेंद्र ने 63.97 मीटर भाला फेंककर वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाया. देवेंद्र का पैरालिम्पिक खेलों में ये दूसरा गोल्ड मेडल था. देवेंद्र ने इससे पहले साल 2004 में हुए एथेंस पैरालंपिक में भी गोल्ड मेडल जीता था. 

पैरालंपियन दीपा मलिक ने इस साल रियो पैरालंपिक में गोला फेंक एफ-53 प्रतिस्पर्धा में रजत पदक जीतकर देशवासियों का सिर गर्व से ऊंचा कर दिया. दीपा रजत पदक जीतने वाली देश की पहली महिला पैरालंपियन हैं. दीपा मलिक कमर से नीचे का हिस्सा लकवा से ग्रस्त हैं और ट्यूमर की वजह से दीपा के 31 ऑपरेशन हो चुके हैं.

भारतीय जूनियर हॉकी टीम ने 15 साल बाद जूनियर हॉकी विश्व कप का खिताब जीता. लखनऊ के मेजर ध्यानचंद नेशनल स्टेडियम में खेले गए फाइनल मुकाबले में भारत ने बेल्जियम को 2-1 से हराकर खिताब पर कब्‍जा किया. सेमीफाइनल में भारत ने ऑस्ट्रेलिया को पेनल्टी शूटआउट में 4-2 से हराकर टूर्नमेंट के फाइनल में प्रवेश किया था. इससे पहले 2001 में ऑस्ट्रेलिया के होबर्ट में भारतीय टीम ने अर्जेंटीना को 6-1 से हराकर जूनियर विश्व कप का खिताब जीता था.

विजेंदर सिंह ने इस साल के अंत में डब्ल्यूबीओ एशिया पैसेफिक सुपर मिडिलवेट के खिताबी मुकाबले में तंजानिया के फ्रांसिस चेका को दस मिनट के अंदर ही नॉकआउट करके अपने खिताब का बचाव किया. 

साल 2015 में पेशेवर मुक्केबाजी में कदम रखने वाले विजेंदर की प्रो बॉक्सिंग में ये लगातार आठवीं जीत है, जिनमें से 7 मुकाबलों में उन्होंने अपने प्रतिद्वंदियों को नॉक आउट किया है. इसी साल उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के कैरी होप को मात देकर डब्ल्यूबीओ एशिया पैसेफिक सुपर मिडिलवेट खिताब अपने नाम किया था.

ऑफ स्पिनर रविचन्द्रन अश्विन ने पूरे साल कमाल की गेंदबाजी की और 12 मैचों में 72 विकेट लेकर शीर्ष गेंदबाज रहे. आईसीसी की टेस्ट गेंदबाजी रैकिंग में शीर्ष स्थान पर काबिज अश्विन ने आईसीसी 2016 अवार्ड्स में इस बार दो पुरस्कारों पर अपना कब्जा जमाया. अश्विन को आईसीसी क्रिकेटर ऑफ दि ईयर' के साथ-साथ 'आईसीसी टेस्ट क्रिकेटर ऑफ दि ईयर' भी घोषित किया गया.

अश्विन को यह अवॉर्ड 14 सितंबर 2015 से लेकर 20 सितंबर 2016 के 12 महीनों की परफॉर्मेंस के आधार पर दिया गया. इस अवधि में अश्विन ने 8 टेस्ट मैच खेले और 15.39 के औसत से 48 विकेट चटकाए.

साल 2016 में भारतीय टेस्ट टीम ने शानदार प्रदर्शन किया. कप्तान विराट कोहली के नेतृत्व में टीम इंडिया ने नंबर-1 टेस्ट टीम के रूप में साल का समापन किया. साल के आखिर में भारत ने इंग्लैंड को टेस्ट सीरीज में 4-0 से हराकर इतिहास रच दिया. पूरे साल भारतीय टीम अविजित रही. 2016 में टीम इंडिया ने 12 टेस्ट मैच खेले जिसमें से 9 मैच में जीत हासिल की और तीन मैच ड्रॉ रहे.

First published: 29 December 2016, 16:23 IST
 
अगली कहानी