Home » खेल » India vs England test live: Rahul missed double century, team India scored 391 for 4
 

भारत बनाम इंग्लैंड टेस्टः दोहरा शतक लगाने से चूके राहुल, टीम इंडिया का स्कोर 391 रन

कैच ब्यूरो | Updated on: 18 December 2016, 19:21 IST
(फाइल फोटो)

चेन्नई में भारत बनाम इंग्लैंड टेस्ट सिरीज के आखिरी मैच में रविवार को ओपनर लोकेश राहुल के करियर की सर्वश्रेष्ठ पारी की बदौलत मेजबान टीम ने पहली पारी में चार विकेट पर 391 रन का स्कोर बनाकर स्थिति को मजबूत कर लिया.

हालांकि राहुल (199) रन बनाकर पहले दोहरे शतक को पूरा करने से चूक गए, लेकिन उन्होंने इंग्लैंड के खिलाफ इस मैदान पर 52 साल पुराना रिकॉर्ड जरूर तोड़ दिया.

भारत ने पहले दिन की समाप्ति तक पहली पारी में 108 ओवर में चार विकेट के नुकसान पर 391 रन बना लिए. अब टीम इंग्लैंड के स्कोर से मात्र 86 रन पीछे है जबकि उसके छह विकेट शेष हैं. बल्लेबाज करूण नायर (71) और मुरली विजय (17) नाबाद क्रीज पर डटे हुए हैं.

मैच का तीसरा दिन पूरी तरह ओपनर राहुल के नाम रहा जो चोट के बाद टीम में वापसी कर रहे हैं. हालांकि दिन की समाप्ति पर जब राहुल अपने दोहरे शतक से मात्र एक रन दूर थे तभी आदिल राशिद ने उन्हें जोस बटलर के हाथों कैच कराकर करियर की इस बड़ी उपलब्धि से वंचित कर दिया.

शनिवार के नाबाद बल्लेबाज राहुल ने हालांकि 311 गेंदों का सामना किया और 16 चौके तथा तीन छक्के लगाकर 199 रन की पारी खेली जो उनके टेस्ट करियर का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन भी है. राहुल भारत के दूसरे बल्लेबाज हैं जो 199 के स्कोर पर आउट हुए हैं. 

इनसे पहले पूर्व कप्तान मोहम्मद अजहरूद्दीन वर्ष 1986 में श्रीलंका के खिलाफ अपने दोहरे शतक से एक रन दूर आकर आउट हो गए थे. राहुल के अलावा आठ और बल्लेबाज टेस्ट क्रिकेट में इस स्कोर पर आउट हो चुके हैं.

राहुल के अलावा ओपनिंग बल्लेबाज पार्थिव पटेल (71) और करूण नायर (नाबाद 71) ने भी अर्धशतकीय पारियां खेलीं. इससे पहले भारत ने अपनी पहली पारी की शुरूआत शनिवार के 60 रन से आगे बढ़ाते हुए की थी और उस समय उसके सभी विकेट सुरक्षित थे. 

बल्लेबाज राहुल 30 और पटेल 28 रन बनाकर क्रीज पर थे. इसके बाद दोनों बल्लेबाजों ने तीसरे दिन भी पारी की ठोस शुरूआत की और पहले विकेट के लिए 152 रन जोड़े. हालांकि लंच से पूर्व पटेल को मोइन अली ने जोस बटलर के हाथों कैच कराकर इस साझेदारी को तोड़ दिया. इंग्लैंड को लंच तक मात्र एक विकेट की ही सफलता मिल सकी जबकि उसने भारतीय बल्लेबाजों को दबाव में लाने के लिए अपने सात गेंदबाजों को मैदान पर उतार दिया.

आठ वर्ष बाद टेस्ट टीम में खेल रहे पार्थिव ने 112 गेंदों में सात चौके लगाकर 71 रन बनाये जो उनका टेस्ट में छठा अर्धशतक है. राहुल ने पार्थिव के साथ पहले विकेट के लिए 41.5 ओवर में 152 रन की शतकीय साझेदारी की और उसके बाद चौथे विकेट के लिए नायर के साथ 161 रन की शतकीय साझेदारी कर भारत को मजबूत स्थिति में पहुंचा दिया. नायर ने 136 गेंदों में छह चौके लगाकर नाबाद 71 रन बनाए.

भारत की पहली पारी में तीसरे दिन बल्लेबाजों ने कमाल का प्रदर्शन किया और 331 रन जोड़ डाले. लंच तक मात्र एक विकेट ही हासिल कर सकी कप्तान एलेस्टेयर कुक की इंग्लिश टीम को लंच के बाद जाकर भारत के तीन विकेट हासिल हुए. पटेल के आउट होने के बाद मैदान पर आए चेतेश्वर पुजारा इस बार सस्ते में पवेलियन लौट गए. 

पुजारा ने 29 गेंदों की पारी में तीन चौके लगाए और 16 रन बनाए, लेकिन वह लंच के ठीक बाद बेन स्टोक्स की गेंद पर कुक को कैच दे बैठे और इंग्लैंड को दिन की दूसरी सफलता मिली. इंग्लैंड का इस विकेट से मनोबल काफी बढ़ा और फिर उसे कुछ देर बाद कप्तान विराट कोहली का अहम विकेट भी जल्द ही मिल गया जो 60वें ओवर में स्टुअर्ट ब्रॉड की गेंद पर कीटन जेनिंग्स को कैच थमा बैठे. विराट ने 29 गेंदों में एक चौका लगाकर 15 रन बनाए.

First published: 18 December 2016, 19:21 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी