Home » खेल » Indian Hockey Team wins Bronze: Germany players started crying after defeat
 

हारने के बाद जमीन पर बैठकर रोने लगे थे जर्मनी के खिलाड़ी, भारतीय टीम ने किया दिल जीतने वाला काम

कैच ब्यूरो | Updated on: 5 August 2021, 14:51 IST
tokyo olampics 2020 (catch news)

Indian Hockey Team wins Bronze: भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने पिछले ओलंपिक की ब्रॉन्ज मेडलिस्ट टीम जर्मनी को 5-4 से हराकर इस बार ब्रॉन्ज मेडल पर कब्जा किया है. इस मैच में हार के बाद जर्मनी के खिलाड़ी जमीन पर बैठकर रोने लगे थे. इसके बाद कुछ ऐसी तस्वीरें आईं, जिन्होंने दुनियाभर का दिल जीत लिया. ये तस्वीरें भारतीय खिलाड़ियों के खेल भावना की थीं.

ऐसी ही एक तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हो रही हैं. जिसमें भारतीय खिलाड़ी सिमरनजीत सिंह जर्मनी के खिलाड़ी को ढांढस बंधाते दिख रहे हैं. तस्वीर में देखा जा सकता है कि जर्मनी का एक खिलाड़ी हार के बाद जमीन पर बैठकर रोने लगा था. इस दौरान जीत का जोश भूलकर सिमरनजीत सिंह ने खेल भावना दिखाई और उन्हें ढांढस बंधाया.

भारतीय खिलाड़ी सिमरनजीत सिंह के इस कदम की जमकर तारीफ हो रही है. सोशल मीडिया पर लोग कह रहे हैं भारतीय खिलाड़ी का यह जेस्चर बहुत ही अच्छा है. यह देखने में बहुत सुंदर है, यही सच्ची खेल भावना है. वायरल फोटो में सिमरनजीत सिंह जर्मनी खिलाड़ी के पास जाकर उन्हें हाथ देकर मैदान से उठाते दिखाई दे रहे हैं. 

बता दें कि इस मुकाबले में आखिरी कुछ सेकेंड्स में जर्मनी को पेनल्टी कॉर्नर मिला था. उस समय मैदान पर बहुत ही ज्यादा तनाव था, अगर यह गोल हो जाता तो दोनों टीमें 5-5 से बराबर हो जातीं और फिर पेनल्टी शूटआउट होता. भारतीय टीम पेनल्टी शूटआउट में मौका गंवा भी सकती थी, लेकिन भारतीय गोलकीपर श्रीजेश ने जर्मनी के पेनल्टी कॉर्नर को गोल में नहीं बदलने दिया.

इस जीत के लिए भारतीय खिलाड़ियों ने जी-जान लगा दी. गोलकीपर पी श्रीजेश ने इस मुकाबले में अपनी ओर से 100 फीसदी से ज्यादा दिया. उन्होंने विरोधी खिलाड़ियों के हर प्रहार को रोकने का काम किया. उनके परफॉर्मेंस ने सभी का दिल जीत लिया. इस जीत के बाद हर तरफ भारतीय हॉकी टीम की ही चर्चा हो रही है. 

Tokyo Olympics: भारतीय हॉकी टीम ने 41 साल बाद ओलंपिक में जीता पदक, जर्मनी को हराकर जीता कांस्य

भारत के लिए टोक्यो ओलंपिक में पहला गोल्ड मेडल जीत सकते हैं रेसलर रवि कुमार, आज है फाइनल मुकाबला

First published: 5 August 2021, 14:51 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी