Home » खेल » #IndvsNZ: It's do or die, Indian batsmen can't afford to go sleepwalking again
 

टी-20 वर्ल्ड कप: एक और गलती करने का मौका नहीं है टीम इंडिया के पास

जी राजारमन | Updated on: 16 March 2016, 20:10 IST
QUICK PILL
  • आईसीसी टी-20 में न्यूजीलैंड के हाथों बुरी तरह से हारने के बाद भारतीय क्रिकेट टीम जबरदस्त दबाव में आ चुकी है.
  • ऐसे में बांग्लादेश, पाकिस्तान और ऑस्ट्रेलिया के साथ होने वाला मैच भारत भारत के लिए करो या मरो की स्थिति जैसा होगा.

नागपुर में आईसीसी टी-20 वर्ल्ड कप में भारत न्यूजीलैंड के हाथों बुरी तरह पिटा. न्यूजीलैंड की टीम ने भारत को स्पिन गेंदबाजी से मात दी जिसमें भारत की स्थिति बेहद मजबूत मानी जाती है. 

न्यूजीलैंड ने यह काम अपने तीन खिलाड़ियों मैक्कुलम, मिशेल सैंटनर और ईश सोधी की मदद से किया. उसके स्पिनरों ने कुल 9 विकेट लिए. भारत को न्यूजीलैंड के हाथों 47 रन से हार मिली.

भारत की हार के लिए वीसीए स्टेडियम की पिच को जिम्मेदार ठहराना मुनासिब नहीं होगा. हां भारत के बल्लेबाजों की जवाबदेही जरूर बनती है, क्योंकि उन्होंने वह काम नहीं किया जिसकी उनसे उम्मीद की गई थी. बल्कि उन्होंने कोऊ जुझारूपन ही नहीं दिखाया.

जब सुरेश रैना की पार्ट टाइम स्पिन बॉलिंग कहर बरपा रही थी तब क्या भारतीय बल्लेबाजों को इस बात का अंदेशा नहीं रहा होगा कि यह स्थिति उनके खिलाफ जा सकती है?

पंडित अक्सर कहते हैं कि छोटे स्कोर का पीछा करना हमेशा मुश्किल और जटिल होता है. खासकर वैसे समय में जब पिच गेंदबाजों को सपोर्ट देने वाली हो. भारतीय बल्लेबाजों की जल्दबाजी ने कीवियों को उन पर बढ़त बनाने का मौका दिया जहां उन्होंने स्पिन की ताकत को भारत के खिलाफ हथियार बना डाला.

निश्चित तौर पर भारतीय क्रिकेट टीम को अस्थायी स्पिनर्स से नुकसान हुआ है लेकिन इस हार के बाद टीम में उनकी जगह को लेकर सोचा जाएगा. इसकी उम्मीद की जा सकती है. 

47 रनों की हार यह बताती है कि भारतीय बल्लेबाज स्थिति को समझने में पूरी तरह विफल रहे और उन्हें अपनी योजना के मुताबिक खेलने का अवसर ही नहीं मिला. यह सोच कि हम किसी भी स्थिति में उन पर भारी पड़ेंगे, भारतीय टीम को ले डूबी.

कैसे हर बल्लेबाज ने गंवाई बढ़त

कुछ लोगों को लग सकता है कि मैच में ओपनिंग करने आए बल्लेबाजों की वजह से हाथ से फिसला. ऐसा लगता है कि शिखर धवन पिच की सुस्ती को समझने में विफल रहे. उन्होंने अपना कीमती विकेट मैक्कुलम के हाथों गंवा दिया जब गेंद उनके पैड से जा टकराई.

रोहित शर्मा भी बाएं हाथ के स्पिनर सैंटनर्स की दूसरी गेंद पर चलते बने. इसके बाद जो हुआ उसकी उम्मीद नहीं थी. करीब घंटे भर के भीतर पूरी टीम पैवेलियन लौट गई. विराट कोहली, रैना, युवराज सिंह, हार्दिक पंड्या और रविंद्र जडेजा न तो डिफेंसिव दिखे और नहीं ऑफेंसिव. साफ कहा जाए तो टीम का मिडल ऑर्डर पूरी तरह से बेकार हो गया.

रैना का आउट होना चौंकाने वाला रहा. टीम उनसे और अधिक समय तक पिच पर रहने की उम्मीद कर सकती थी लेकिन उन्होंने तेजी से शॉट खेलकर पैवेलियन लौटना मुनासिब समझा.

कोहली दो विकेट गिरने के बाद पूरी तरह से लापरवाह नजर आए. मैक्कुलम की गेंद पर युवराज सिंह के आउट होने के बाद उन्हें पिच पर रुकना था लेकिन स्पिनर सोढी ने इस उम्मीद पर भी पानी फेर दिया. उन्होंने लालच में आकर शॉट खेलने की कोशिश की और पीछे पकड़े गए.

पंड्या और जडेजा भी ऐसे ही पैवेलियन चले गए. धोनी ने कुछ उम्मीद जगाई लेकिन वह देर तक नहीं बने रह सके.

दो अहम सवाल

तो क्या भारत अतिरिक्त बल्लेबाजों को लेकर मैच बचा सकता था?

मंगलवार के बाद इस स्थिति से कोई फर्क नहीं पड़ने जा रहा. यह देखना दिलचस्प होगा कि भारत हार्दिक पंड्या के बदले हरभजन सिंह और पवन नेगी को मौका दे.

सबसे अहम सवाल यह कि क्या धोनी ने युवराज के बदले पंड्या को गेंद थमाकर गलती की?

न्यूजीलैंड ने पंड्या की मदद से आखिरी छह ओवर में 48 रन बनाए जिसमें पंड्या ने एक ओवर में 10 रन लुटाए.

क्या होगा आगे

बल्लेबाजों की वजह से मंगलवार को भारत का मैच हाथ से निकला. निश्चित तौर पर वह इससे बेहतर कर सकते थे. लेकिन अगला मैच पाकिस्तान के साथ होना है और ऐसे में टीम को एक साथ मिलकर काम करना होगा.

हालांकि यह पहली बार नहीं है जब भारत को इस बात का एहसास हुआ है कि अगर जूता दूसरे के पैर में हो तो उसे भी नुकसान हो सकता है.

भारत को देखकर लग रहा था कि वह 11 मैचों में से 10 में जीत दर्ज करेगी लेकिन यह लय और ताल टूटती दिखाई दे रही है. अब भारत को सुपर 10 में बने रहने के लिए पाकिस्तान, बांग्लादेश और ऑस्ट्रेलिया के साथ करो या मरो की स्थिति में लड़ना होगा. धोनी और टीम निर्देशक रवि शास्त्री को विपरीत हालात में टीम के प्रदर्शन पर नजर रखनी होगी.

और पढ़ें: एमएस धोनी फिल्म के टीजर पर पहली नजर

और पढ़ें: टी-20 वर्ल्ड कप: पहले ही मैच में भारत की शर्मनाक हार

और पढ़ें: सानिया-शोएब की नोंक-झोंक का वीडियो पाकिस्तान में हुआ वायरल

First published: 16 March 2016, 20:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी