Home » खेल » IOC stops talks of hosting Olympic events in India after Pakistan shooters denied visa
 

पाकिस्तानी खिलाडियों को वीजा न देने पर IOC ने रोके भारत में होने वाले सभी ओलंपिक आयोजन

कैच ब्यूरो | Updated on: 22 February 2019, 11:51 IST

जहां गुरुवार देर रात नई दिल्ली में शूटिंग विश्व कप के मेजबानों के लिए कुछ राहत मिली, वहीं अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक आयोग ने देश में किसी भी भविष्य के खेल और ओलंपिक से संबंधित कार्यक्रमों की मेजबानी के अधिकारों के बारे में भारत के साथ सभी चर्चाओं को स्थगित करने की घोषणा की है. यह फैसला तब आया है जब पुलवामा में आतंकवादी हमले के बाद शनिवार को नई दिल्ली में शुरू होने वाले विश्व कप की शूटिंग के लिए पाकिस्तान की तीन सदस्यीय टीम को वीजा नहीं दिया गया.

इंटरनेशनल ओलंपिक कमेटी ने भविष्य में होने वाले सभी ग्लोबल स्पोर्ट्स इवेंट को आयोजित करने की भारत की अर्जियों को सस्पेंड कर दिया है. इंटरनेशनल ओलंपिक कमेटी ने कहा, 'भारतीय सरकार और अथॉरिटी सही समय पर पाकिस्तानी दल को इवेंट में नहीं पहुंचा सकी, जिसके बाद आईओसी एक्जीक्यूटिव बोर्ड ने फैसला लिया है कि भारत के साथ भविष्य में होने वाले किसी ग्लोबल और ओलंपिक इवेंट पर कोई बातचीत नहीं होगी.' इंटरनेशनल कमेटी ने कहा कि वो भारत में तभी कोई इंटरनेशनल इवेंट आयोजित करने की इजाजत देखा जब उसे सरकार की ओर से लिखित आश्वासन मिलेगा.

आईओसी का कहना है कि भारत के साथ तब तक विचार-विमर्श निलंबित है, जब तक भारत से स्पष्ट लिखित गारंटी नहीं दी जाती कि इस तरह के आयोजनों में सभी प्रतिभागियों के प्रवेश के लिए ओलंपिक चार्टर के नियमों का पूरी तरह से पालन किया जायेगा. आईओसी ओलंपिक चार्टर के बारे में सख्त रहा है जो मेजबान देश से कोई भेदभाव और राजनीतिक हस्तक्षेप नहीं करने के लिए कहता है. भारत को 2020 में एक और शूटिंग विश्व कप आयोजित करने के लिए निर्धारित किया गया है, साथ ही एशियाई खेलों और युवा ओलंपिक खेलों जैसे अन्य बहु-राष्ट्रीय आयोजनों के लिए बोली लगाई गई है, जो अब आगे बढ़ने की संभावना नहीं दिखती है.

आईओसी को 18 फरवरी को सूचित किया गया था कि भारत सरकार के अधिकारी दो एथलीटों और एक अधिकारी को शामिल करने वाले पाकिस्तानी प्रतिनिधिमंडल को प्रवेश वीजा देने में विफल रहे, जो आईएसएसएफ विश्व कप में भाग लेने आ रहे थे. यह ओलंपिक गेम्स टोक्यो 2020 के लिए एक योग्यता प्रतियोगिता है जिसमें संबंधित राष्ट्रीय ओलंपिक समितियों (एनओसी) द्वारा प्रत्यक्ष कोटा अर्जित किया जाता है. दो पाकिस्तानी एथलीट शनिवार 23 फरवरी से शुरू होने वाली पुरुषों की 25 मीटर रैपिड फायर पिस्टल स्पर्धा में भाग लेने वाले थे.

श्रीलंकन क्रिकेट बोर्ड में फिर से हुआ बड़ा उल्टफेर, इस दिग्गज को चुना गया अध्यक्ष

First published: 22 February 2019, 11:39 IST
 
अगली कहानी