Home » खेल » Asked BCCI to stop giving large funds to State Associations, not asked to stop funds for routine matters
 

जस्टिस लोढ़ा: भारत-न्यूजीलैंड सीरीज रद्द होने का सवाल ही नहीं, ई-मेल की गलत व्याख्या

कैच ब्यूरो | Updated on: 4 October 2016, 9:56 IST

जस्टिस आरएम लोढ़ा समिति के निर्देशों के बाद जहां एक और भारत और न्यूजीलैंड सीरीज पर संकट के बादल मंजरा रहे हैं, वहीं दूसरी ओर जस्टिस लोढ़ा ने इस मामले में सफाई दी है.

जस्टिस लोढ़ा ने स्पष्टीकरण देते हुए कहा है कि उन्होंने भारत और न्यूजीलैंड के बीच चल रही सीरीज के लिए फंड जारी करने पर कोई रोक नहीं लगाई है. ऐसे संकेत मिल रहे हैं कि बैंक अकाउंट फ्रीज होने के निर्देश के बाद क्रिकेट बोर्ड यह सीरीज रद्द कर सकता है.

राज्य संघों को बड़े फंड जारी करने पर रोक

बीसीसीआई के बैंक अकाउंट फ्रीज करने के मुद्दे पर जस्टिस लोढ़ा ने कहा, "बीसीसीआई को रोजमर्रा या सामान्य मामलों में फंड रोकने को नहीं कहा गया है."

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक जस्टिस आर एम लोढ़ा ने कहा, "हमने भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड से राज्य क्रिकेट संघों को बड़े फंड जारी करने पर रोक लगाने को कहा है." 

'बीसीसीआई का अकाउंट फ्रीज नहीं'

जस्टिस लोढ़ा ने कहा, "किसी मैच या सीरीज के रद्द होने का सवाल ही नहीं है. बीसीसीआई का अकाउंट फ्रीज नहीं हुआ है. हमारे ई-मेल को सही-सही नहीं पढ़ा गया. इसके बजाए ई-मेल की गलत व्याख्या हो रही है."

जस्टिस लोढ़ा ने समाचार एजेंसी एएनआई से कहा, "बैंकों को निर्देश का अनुपालन सुनिश्चित करने को कहा गया है. इसमें मैचों के नियमित खर्च, क्रिकेट गतिविधियां और प्रशासनिक मामलों में होने वाले खर्च पर रोक नहीं है."

केवल 30 सितंबर के फैसले पर रोक

इसके अलावा जस्टिस लोढ़ा ने कहा, "भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड को सोमवार को भेजे ई-मेल में हमने जो निर्देश दिए हैं वे राज्यों से जुड़े क्रिकेट एसोसिएशन को बड़े फंड से संबंधित भुगतान तक सीमित हैं."

समाचार एजेंसी से बातचीत में जस्टिस लोढ़ा ने कहा, "राज्य क्रिकेट संघों को बड़े फंड के भुगतान (बीसीसीआई की 30 सितंबर की बैठक में फैसला) पर केवल रोक लगाई गई है. इससे ज्यादा कुछ भी नहीं है."

इसके साथ ही जस्टिस लोढ़ा ने ई-मेल पर सफाई देते हुए कहा, "अगर चैंपियंस ट्रॉफी का कैलेंडर एक साल पहले ही बनाया जा चुका है तो हमारी सिफारिशें उस पर कोई असर नहीं डालेंगी."

क्या है पूरा विवाद?

भारत और न्यूजीलैंड के बीच चल रही क्रिकेट सीरीज पर संकट खड़ा हो गया है. दरअसल लोढ़ा समिति के निर्देशों के बाद भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड यानी बीसीसीआई का बैंक अकाउंट फ्रीज होने की खबर है.

अंग्रेजी अखबार इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक जस्टिस एलएम लोढ़ा समिति के इस कदम से नाराज बीसीसीआई भारत और न्यूजीलैंड के बीच चल रही सीरीज के बाकी मैच रद्द कर सकती है. गौरतलब है कि अभी टेस्ट सीरीज का एक मैच और वनडे सीरीज के पांच मैच का आयोजन होना बाकी है. 

सीरीज रद्द करना मजबूरी!

अंग्रेजी अखबार इंडियन एक्सप्रेस में छपी खबर के मुताबिक बोर्ड के एक सीनियर अधिकारी का कहना है कि बोर्ड अब यह फैसला लेने को मजबूर है. अधिकारी का कहना है, "बैंक ने बीसीसीआई के अकाउंट फ्रीज करने का फैसला लिया है. इसके बाद बीसीसीआई के पास भारत-न्यूजीलैंड की सीरीज को रद्द करने के अलावा कोई विकल्प नहीं बचा है."

अखबार के मुताबिक लोढ़ा समिति की चिट्ठी में 'बैंक ऑफ महाराष्ट्र' और 'येस बैंक' का जिक्र है. इसके साथ ही अंग्रेजी अखबार टाइम्स ऑफ इंडिया के मुताबिक इन दोनों बैंकों ने फैसला लिया है कि वे बीसीसीआई का भुगतान रोकेंगे.

6 अक्तूबर को सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई

हालांकि बीसीसीआई के एक वरिष्ठ अधिकारी का कहना है, "6 अक्तूबर तक का इंतजार करें, जब सुप्रीम कोर्ट इस मामले की अगली सुनवाई करेगा. तब तक सब ठीक हो जाएगा." भारत और न्यूजीलैंड के बीच टेस्ट सीरीज का तीसरा और आखिरी मैच इंदौर में खेला जाना है.

लोढ़ा समिति ने सोमवार को बैंकों को लिखे पत्र में कहा है, "समिति को पता चला है कि बीसीसीआई की 30 सितंबर 2016 को हुई आपात कार्यकारी बैठक में कुछ फैसले लिए गए हैं. जिसमें विभिन्न सदस्य संघों को काफी बड़ी राशि का वितरण किया गया है."

लोढ़ा समिति की यह चिट्ठी बीसीसीआई सचिव अजय शिर्के, मुख्य कार्यकारी अधिकारी राहुल जौहरी और कोषाध्यक्ष अनिरूद्ध चौधरी के पास भी भेजा गया है. 

8 अक्तूबर से इंदौर में तीसरा टेस्ट

भारत और न्यूजीलैंड के बीच इसी महीने की 8 तारीख से इंदौर में तीसरा टेस्ट प्रस्तावित है. तीन टेस्ट मैचों की सीरीज में टीम इंडिया ने 3-0 की अपराजेय बढ़त बना ली है.

कोलकाता में खेले गए दूसरे टेस्ट में भारत ने न्यूजीलैंड को करारी शिकस्त देते हुए टेस्ट रैंकिंग में पाकिस्तान को पछाड़ते हुए पहली रैंकिंग हासिल की है. इसके अलावा कानपुर में खेला गया भारतीय टेस्ट क्रिकेट इतिहास का 500वां टेस्ट भी टीम इंडिया ने जीत लिया था.

First published: 4 October 2016, 9:56 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी