Home » खेल » India storms into semifinal of Kabaddi World Cup after defeating England
 

कबड्डी वर्ल्ड कप जीतने से दो कदम दूर भारत, इंग्लैंड को हराकर सेमीफाइनल में पहुंचा

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 February 2017, 1:47 IST
(ट्विटर)

अहमदाबाद में चल रहे कबड्डी वर्ल्ड कप के आखिरी ग्रुप मैच में जीत हासिल करते हुए भारत ने चैंपियनशिप के सेमीफाइनल में जगह बना ली है. ऐसे में भारत और कबड्डी वर्ल्ड कप-2016 के बीच महज दो जीत का फासला रह गया है.

भारतीय टीम ने मंगलवार को अपने आखिरी ग्रुप मैच में शानदार खेल दिखाते हुए इंग्लैंड को बुरी तरह रौंद दिया. एशियाई और दो बार के विश्व चैम्पियन भारत ने इंग्लैंड को 69-18 से ग्रुप मुकाबले में मात दी. 

दक्षिण कोरिया ग्रुप में अव्वल

एरेना बाय ट्रांसस्टेडिया में ग्रुप-बी का मुकाबला भारत ने 51 अंकों के बड़े अंतर से जीतते हुए सेमीफाइनल का टिकट कटाया है. भारत को अपने ग्रुप में केवल कोरिया से हार मिली है.

ग्रुप बी से दक्षिण कोरिया शीर्ष पर पर रहते हुए सेमीफाइनल में पहुंचा है. सेमीफाइनल मुकाबले 21 अक्टूबर से खेले जाएंगे.

पहले हाफ में इंग्लैंड पर बड़ी बढ़त

हालांकि इंग्लैंड के साथ होने वाले मुकाबले में पहले से ही भारतीय टीम का पलड़ा भारी माना जा रहा था. कोरिया के हाथों हार से सबक लेते हुए भारत ने बांग्लादेश के बाद इंग्लैंड के खिलाफ पहले से कड़ी तैयारी की थी.

मुकाबले को देखने के लिए तकरीबन 3,000 दर्शक पहुंचे. पहले हाफ में ही भारत ने 45-6 के स्कोर के साथ भारी बढ़त ले ली. भारत ने इंग्लैंड को इस दौरान चार बार ऑल आउट किया.

ट्विटर

पांच बार ऑल आउट इंग्लैंड

इस कबड्डी वर्ल्ड कप में अब तक सबसे ज्यादा रेड अंक (47) जुटाने वाले इंग्लैंड के टोपे एडेवाल्यूर को भारतीय खिलाड़ियों ने कोई मौका नहीं दिया.

पहले हाफ में भारत की ओर से प्रदीप नरवाल (11 अंक), अजय ठाकुर (9 अंक) और संदीप नरवाल (7 अंक) ने शानदार खेल दिखाया. दूसरे हाफ में कप्तान अनूप कुमार, मंजीत चिल्लर और धर्मराज चेरालथन बाहर चले गए. 

दूसरे हाफ में भी भारत ने सबसे ज्यादा अंक रेड से जुटाए. भारत ने एक टैकल के माध्यम से इंग्लैंड को पांचवीं बार ऑल आउट किया. भारतीच रेडरों का इस कदर वर्चस्व रहा कि इंग्लैड की टीम टैकल से एक-एक अंक ही जुटा सकी.

भारत ने रेड से कुल 43, टैकल से 12 और ऑल आउट से 10 अंक बनाए. वहीं उसे चार अतिरिक्त अंक भी हासिल हुए.

ट्विटर

केन्या-जापान अभी रेस में

मंगलवार को खेले गए पहले मुकाबले में केन्या ने अमेरिका को 74-19 से हराकर अंतिम चार में पहुंचने की उम्मीदों को बरकरार रखा है. हालांकि केन्या को अभी किस्मत के भरोसे रहना होगा.

बुधवार को अगर जापान की टीम थाईलैंड को सात सा उससे ज्यादा अंकों के अंतर से हरा देती है तो केन्या को सेमीफाइनल की बर्थ मिल जाएगी. 

वहीं थाईलैंड पर जीतने की सूरत में जापान के 16 अंक हो जाएंगे. केन्या के भी 16 अंक हैं. ऐसे में जिस टीम ने ग्रुप स्तर पर ज्यादा अंक हासिल किए होंगे, उसे सेमीफाइनल में दक्षिण कोरिया से भिड़ना पड़ सकता है.

First published: 19 October 2016, 10:27 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी