Home » खेल » Kidambi Srikanth beats Chen Long to win Australia Open Super Series
 

Australia Open Super Series जीत श्रीकांत ने रचा इतिहास, 7 दिन में बने 2 बार चैंपियन

कैच ब्यूरो | Updated on: 25 June 2017, 13:09 IST

भारतीय बैडमिंटन के इतिहास में रविवार का दिन खास रहा. शटलर श्रीकांत ने शानदार तरीके से चीन के दबदबे को तोड़ते हुए ऑस्ट्रेलिया ओपन टूर्नामेंट का खिताब जीता लिया.

फाइनल मुकाबले में किदांबी श्रीकांत ने चीन के चेन लांग को करारी शिकस्त दी है. दो सेट तक चले इस मुकाबले में श्रीकांत ने चेन लांग को 22-20, 21-16 से मात दी. किदांबी श्रीकांत ने अपने पुराने प्रतिद्वंदी की एक नहीं चलने दी और पूरे मुकाबले में छाए रहे.

श्रीकांत अक्सर चीन के अपने पुराने दुश्मन चेन लांग से हार जाते थे लेकिन खिताबी भिड़ंत में इस बार ऐसा नहीं हुआ. श्रीकांत ने गजब का खेल दिखाते हुए चेन के खिलाफ अपनी जीत का खाता खोल ही लिया. यह श्रीकांत की चेन लांग के खिलाफ पहली जीत है. अब तक दोनों के बीच छह मैच हुए हैं जिसमें पांच में चेन लांग जीते हैं.

श्रीकांत लगातार दो सुपर सीरीज खिताब जीतने वाले पहले भारतीय पुरुष खिलाड़ी बन गए. वर्ल्ड नंबर 11 श्रीकांत हफ्तेभर में दूसरी बार सुपरसीरीज चैंपियन बने हैं. 18 जून को उन्होंने इंडोनेशिया ओपन का खिताब जीता था. श्रीकांत का यह चौथा सुपर सीरीज खिताब है. श्रीकांत इंडोनेशिया ओपन, 2014 में चाइना ओपन और 2015 में इंडिया ओपन सुपर सीरीज खिताब जीत चुके हैं. इतना ही नहीं, श्रीकांत इससे पहले लगातार तीसरी बार सुपरसीरीज के फाइनल में पहुंचे और यह उपलब्धि हासिल करने वाले दुनिया के महज छठे शटलर रहे.

उनसे पहले लिन डैन, ली चोंग वी, चेन लांग के अलावा बाओ चुनलाई और सोनी ड्वी कुनकोरो यह कारनामा कर चुके हैं. इस पूरे टूर्नामेंट में के श्रीकांत ने शानदार खेल दिखाया। श्रीकांत वर्तमान में अच्छी फॉर्म में चल रहे हैं. उन्होंने शीर्ष विश्व वरीयता प्राप्त सोन वान हो और चौथी विश्व वरीयता प्राप्त शी युकी को मात देते दी. सेमीफाइनल में 11वीं रैंक प्राप्त श्रीकांत ने चीन के चौथी वरीयता प्राप्त शी युगी को 21-10, 21-14 से शिकस्त दी थी.

इस साल श्रीकांत की परफॉर्मेंस काबिले तारीफ रही जिससे उनकी रैंकिंग में भी सुधार हुआ है। श्रीकांत ने शानदार प्रदर्शन के दम पर 22 जून को जारी विश्व रैंकिंग में 11 स्थानों की छलांग लगाकर 11वां स्थान हासिल किया था. जबकि उन्होंने अपने साथी भारतीय खिलाड़ी अजय जयराम को 15वें स्थान पर छोड़ दिया.

First published: 25 June 2017, 13:09 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी