Home » खेल » Lodha panel submit another report to SC seeking removal of certain BCCI officials
 

पूर्व गृह सचिव जीके पिल्लई को नियुक्त किया जाए बीसीसीआई का ऑब्जर्वर: लोढ़ा कमेटी

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 February 2017, 1:39 IST
(फाइल फोटो)
QUICK PILL

बीसीसीआई और लोढ़ा कमेटी के बीच विवाद गहराता जा रहा है. सोमवार को लोढ़ा कमेटी ने सुप्रीम कोर्ट में अर्जी दाखिल कर कहा है कि बीसीसीआई के कुछ पदाधिकारियों को उनके पद से हटा दिया जाए. साथ ही कमेटी ने कोर्ट से अनुरोध किया है कि पूर्व गृह सचिव जीके पिल्लई को पर्यवेक्षक (ऑब्जर्वर) नियुक्त किया जाए.

कमेटी ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि पर्यवेक्षक के रूप में जीके पिल्लई बीसीसीआई के कॉन्ट्रैक्ट देने के लिए ऑडिटरों की नियुक्ति का महत्वपूर्ण काम करेंगे. इन कॉन्ट्रैक्ट में भविष्य में होने वाले इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के मीडिया अधिकारों के कॉन्ट्रैक्ट भी शामिल हैं.

लोढा समिति ने बीसीसीआई के प्रशासन की निगरानी के लिये पूर्व केंद्रीय गृह सचिव जीके पिल्लई को पर्यवेक्षक नियुक्त करने हेतु कोर्ट से अनुमति मांगी और सेक्रेटैरियल कर्मचारियों और सहायकों की नियुक्त करने और उनका वेतन निर्धारित करने का अधिकार भी देने का अनुरोध किया. 

इससे पहले लोढ़ा कमेटी ने सुप्रीम कोर्ट के आदेशों का पालन नहीं करने के लिए बीसीसीआई प्रमुख अनुराग ठाकुर को पद से हटाने की मांग की थी. 

लोढा कमिटी ने अपनी रिपोर्ट में कहा था कि बीसीसीआई अपने कामकाज में सुधार के लिए न तो कमेटी की सिफारिशें मान रहा है, न ही शीर्ष अदालत के आदेश का सम्मान कर रहा है.

इसके जवाब में कोर्ट ने बीसीसीआई को फटकार लगाते हुए कहा था कि बीसीसीआई खुद को कानून से ऊपर न समझे, और जल्द से जल्द सुप्रीम कोर्ट के आदेशों का पालन करे.

First published: 21 November 2016, 6:47 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी