Home » खेल » Magnus Carlsen beats Russia's Sergey Karjakin to win World Chess Championship for 3rd time
 

मैग्नस कार्लसन ने तीसरी बार जीता वर्ल्ड चेस चैंपियनशिप का ख़िताब

कैच ब्यूरो | Updated on: 1 December 2016, 15:10 IST

वर्ल्ड चैंपियन नार्वे के मैग्नस कार्लसन ने रूसी चैलेंजर सर्जेइ कर्जाकिन को टाइब्रेकर में हराकर लगातार तीसरी बार विश्व शतरंज चैम्पियनशिप का खिताब जीत लिया. इस जीत के साथ ही कार्लसन 15 बरस तक शतरंज पर अपनी बादशाहत कायम करने वाले गैरी कास्पोरोव जैसे धुरंधर जैसा दर्जा हासिल करने के करीब पहुंच गए.

कर्जाकिन ने 12 नियमित दौर तक कांटे की टक्कर दी, लेकिन कार्लसन ने चार ताबड़तोड़ अतिरिक्त बाजियों में उन्हें हराया. इससे पहले कार्लसन ने फिडे की चैम्पियनशिप 2013 और 2014 में भारत के विश्वनाथन आनंद को हराकर जीती थी.

इस खिताबी मुकाबले की 11 लाख डॉलर की ईनामी राशि को दोनों खिलाड़ियों के बीच बांटा जाएगा जिसमें 60 फिसदी हिस्सा विजेता को मिलेगा.

मैग्नस कार्लसन विश्व शतरंज चैम्पियनशिप जीतने वाले विश्व के सबसे कम उम्र के खिलाड़ी हैं. उन्होंने मात्र 22 वर्ष, 357 दिन की उम्र में विश्व शतरंज चैम्पियनशिप का खिताब जीता था. वर्ष 2013 में चेन्नई में हुए विश्व शतरंज चैंपियनशिप में आनंद को हराकर पहली बार विश्व खिताब हासिल किया था.

First published: 1 December 2016, 15:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी