Home » खेल » Maria Sharapova failed drugs test
 

मारिया शारापोवा डोप टेस्ट में हुईं थी फेल, हो सकता है 2 साल के लिए निलंबन

कैच ब्यूरो | Updated on: 8 March 2016, 12:48 IST

रूस की पूर्व नंबर एक खिलाड़ी और पांच बार की ग्रैंडस्लैम विजेता मारिया शारापोवा ने मंगलवार को बताया कि उनके ऑस्ट्रेलियाई ओपन में न खेल पाने की वजह डोप टेस्ट में फेल होना था. लेकिन उन्हें इस अपराध की क्या सजा मिलेगी, उन्हें यह पता नहीं है.

शारापोवा ने प्रेस कांफ्रेंस में कहा 'मैं डोप टेस्ट में नाकाम रही और इसकी पूरी जिम्मेदारी लेती हूं. मैंने भारी गलती की और अपने प्रशंसकों को निराश किया. मैने अपने खेल को शर्मसार किया, जिससे मुझे बेपनाह मुहब्बत है.'

मारिया शारापोवा ने कहा कि इस साल विश्व डोपिंग निरोधक एजेंसी के द्वारा कुछ नई दवाओं को प्रतिबंधित करने के कारण उससे यह गलती हुई है. उन्हें उन दवाओं के प्रतिबंधित होने की जानकारी नहीं थी.

ऑस्ट्रलिया के स्पोर्ट्स डॉक्टर पीटर ब्रूकनर ने इस मामले में जानकारी देते हुए बताया कि रूसी टेनिस खिलाड़ी शारापोवा मेल्डोनियम दवा का सेवन करती थीं, जिसे वर्ल्ड एंटी डोपिंग एंजेंसी ने एक जनवरी से प्रतिबंधित कर दिया था.

डॉक्टर पीटर के मुताबिक शारापोवा इस दवा को साल 2006 से ले रही हैं. यह दवा प्रमुख तौर पर डायबिटीज और लो मैग्नीशियम के इलाज में प्रयोग होती है. शारापोवा के इस अपराध के लिए अंतरराष्ट्रीय टेनिस महासंघ उन्हें अस्थायी तौर पर करीब दो साल के लिए निलंबित कर सकता है.

मारिया शारापोवा ने जैसे ही प्रतिबंधित दवा के इस्तेमाल की बात स्वीकार की, अमेरिकी कंपनी नाइके ने टेनिस स्टार शारापोवा के साथ अपने विज्ञापन संबंधी करार को निलंबित करने की घोषणा कर दी.

नाइके ने इस मामले में एक बयान जारी करके कहा कि 'हम मारिया शारापोवा के बारे में मिली खबर से हैरान और दुखी हैं. हमने जांच पूरी होने तक उसके साथ संबंध निलंबित करने का फैसला किया है'.

मारिया शारापोवा ने साल 2004 में विम्बलडन खिताब जीतकर अंतरराष्ट्रीय टेनिस में प्रवेश किया. शारापोवा ने साल 2006 में अमेरिकी ओपन, साल 2008 में ऑस्ट्रेलियाई ओपन और साल 2012 तथा साल 2014 में फ्रेंच ओपन जीता है. शारापोवा फिलहाल विश्व रैंकिंग में सातवें नंबर पर हैं.

मंगलवारप्रेस कांफ्रेंस में कहा 'मैं डोप टेस्ट में नाकाम रही और इसकी पूरी जिम्मेदारी लेती हूं. मैंने भारी गलती की और अपने प्रशंसकों को निराश किया. मैने अपने खेल को शर्मसार किया जिससे मुझे बेपनाह मुहब्बत है'मारिया शारापोवा ने कहा कि इस साल विश्व डोपिंग निरोधक एजेंसी की के द्वारा कुछ नई दवाओं के प्रतिबंधित के कारण उससे यह गलती हुई है. उन्हें उन दवाओं के प्रतिबंधित होने की जानकारी नहीं थी. ऑस्ट्रलिया के स्पोर्ट्स डॉक्टर पीटर ब्रूकनर ने इस मामले में जानकारी देते हुए बताया कि रूसी टेनिस खिलाड़ी शारापोवा मेल्डोनियम दवा का सेवन करती थीं, जिसे वर्ल्ड एंटी डोपिंग एंजेंसी ने एक जनवरी से प्रतिबंधित कर दिया था. डॉक्टर पीटर के मुताबिक शारापोवा इस दवा को साल 2006 से ले रही हैं. यह दवा प्रमुख तौर पर डायबिटीज़ और लो मैग्नीशियम के इलाज में प्रयोग होती है. शारापोवा के इस अपराध के लिए अंतरराष्ट्रीय टेनिस महासंघ उन्हें अस्थायी तौर पर करीब दो साल के लिए निलंबन कर सकता है. मारिया शारापोवा ने जैसे ही प्रतिबंधित दवा के इस्तेमाल की बात स्वीकार की, अमेरिकी कंपनी नाइके ने टेनिस स्टार शारापोवा के साथ अपने विज्ञापन संबंधी करार को निलंबित करने की घोषणा कर दी है. नाइके ने इस मामले में एक बयान जारी करके कहा कि 'हम मारिया शारापोवा के बारे में मिली खबर से हैरान और दुखी हैं. हमने जांच पूरी होने तक उसके साथ संबंध निलंबित करने का फैसला किया है'मारिया शारापोवा ने साल 2004 में विम्बलडन खिताब जीतकर अंतरराष्ट्रीय टेनिस में प्रवेश किया. शारापोवा ने साल 2006 में अमेरिकी ओपन, साल 2008 में ऑस्ट्रेलियाई ओपन और साल 2012 तथा साल 2014 में फ्रेंच ओपन जीता है. रूसी जेनिस स्टार शारापोवा फिलहाल वह विश्व रैंकिंग में सातवें नंबर पर हैं
First published: 8 March 2016, 12:48 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी