Home » खेल » maria sharapova suspended for 2 years for positive drug test
 

डोपिंग टेस्ट में फेल मारिया शारापोवा पर दो साल का बैन

कैच ब्यूरो | Updated on: 9 June 2016, 12:27 IST
(पत्रिका)

अंतरराष्ट्रीय टेनिस महासंघ (आईटीएफ) ने बुधवार को रूस की महिला टेनिस खिलाड़ी मारिया शारापोवा पर दो साल के लिए प्रतिबंध लगा दिया है. शारापोवा को जनवरी में हुए ऑस्ट्रेलियन ओपन के दौरान प्रतिबंधित पदार्थ मेलडोनियम के सेवन का दोषी पाया गया था.

इस साल मार्च में उन पर अस्थायी प्रतिबंध लगा दिया गया था. इसके बाद अंतरराष्‍ट्रीय टेनिस संघ ने उन पर प्रतिबंध लगाकर प्रतियोगिताओं में हिस्सा लेने पर रोक लगा दी थी.

मारिया करेंगी अपील

आईटीएफ के फैसले के बाद मारिया शारापोवा ने अपने फेसबुक पेज पर कहा, "मैं दो साल के इस प्रतिबंध के खिलाफ अपील करूंगी."

शारापोवा ने कहा, "आईटीएफ ने यह साबित करने के लिए काफी समय और संसाधन लगाया कि मैंने जानबूझकर डोपिंग रोधी नियमों का उल्लंघन किया है, जबकि ट्रिब्यूनल का यह निष्कर्ष था कि मैंने ऐसा नहीं किया है. मैं खेल मध्यस्थता अदालत में इस फैसले के खिलाफ अपील करूंगी."

मारिया शारापोवा ने फैसले के खिलाफ अपील की बात कही है (फेसबुक)

आईटीएफ ने बयान में कहा कि 2016 डोपिंग रोधी कार्यक्रम के अनुच्छेद 8.1 के तहत नियुक्त किए गए स्वतंत्र न्यायाधिकरण ने मारिया शरापोवा को डोपिंग रोधी नियम के अनुच्छेद 2.1 का दोषी पाया है.

आईटीएफ ने कहा कि पांच बार की ग्रैंडस्लैम चैंपियन 29 वर्षीय शारापोवा पर यह प्रतिबंध इस वर्ष 26 जनवरी से लागू होगा. जिसका मतलब है कि शारापोवा का ऑस्ट्रेलियन ओपन के क्वार्टरफाइनल में पहुंचने का परिणाम अब रद्द कर दिया जाएगा.

मारिया शारापोवा पर प्रतिबंध के मामले में ट्रिब्यूनल की तरफ से जारी आदेश (फेसबुक)

रियो ओलंपिक से बाहर

आईटीएफ ने मेलडोनियम को एक जनवरी को प्रतिबंधित कर दिया गया था. शारापोवा ने कहा था कि वह स्वास्थ्य कारणों से 2006 से इस पदार्थ का सेवन कर रही थीं.

इस प्रतिबंध के कारण शारापोवा अब इस साल की विंबलडन चैंपियनशिप और अगस्त में होने वाले रियो ओलंपिक में हिस्सा नहीं ले पाएंगी. अपने करियर में 35 डब्ल्यूटीए खिताब जीतने वाली शारापोवा ने यह कहकर दुनिया को चौंका दिया था कि वह मेलडोनियम के सेवन के लिए पॉजिटिव पाई गई हैं.

शारापोवा का कहना था कि वह डायबिटीज के इलाज के लिये एक दशक से यह दवा ले रही थीं. मेलडोनियम को विश्व डोपिंग रोधी एजेंसी (वाडा) ने इस साल के शुरू में अपनी प्रतिबंधित दवाओं की सूची में शामिल किया था.

First published: 9 June 2016, 12:27 IST
 
अगली कहानी