Home » खेल » Narsingh Yadav Better Bet Than Sushil Kumar For Rio Olympics: WFI
 

कुश्ती महासंघ: सुशील के मुकाबले नरसिंह बेहतर प्रतिभागी

कैच ब्यूरो | Updated on: 29 May 2016, 9:44 IST

भारतीय कुश्ती महासंघ (डब्ल्यूएफआई) ने शुक्रवार को दिल्ली हाईकोर्ट में रियो ओलंपिक के लिए पहलवान नरसिंह पंचम यादव का समर्थन किया है. डब्ल्यूएफआई ने कहा है कि नरसिंह यादव 74 किलोग्राम भार वर्ग में सबसे बेहतर पहलवान हैं, साथ ही वो ओलंपिक पदक विजेता सुशील कुमार की तुलना में बेहतर प्रतिभागी हैं.

ओलंपिक में इस भार वर्ग में सुशील या नरसिंह में कोई एक ही हिस्सा ले सकता है. इसी महीने सुशील कुमार ने दिल्ली हाईकोर्ट में एक याचिका दाखिल करते हुए नरसिंह यादव और उनके बीच मुकाबले की मांग की थी.

नरसिंह यादव सितंबर, 2015 में लास वेगास में हुए वर्ल्ड कप चैंपियनशिप में फ्रीस्टाइल के 74 किलोग्राम भार वर्ग में कांस्य पदक जीतकर रियो का टिकट कटा चुके हैं. उत्तर प्रदेश के वाराणसी जिले के रहने वाले नरसिंह ने 2010 कॉमनवेल्थ गेम्स में इसी भार वर्ग में स्वर्ण पदक जीता था.

ओलंपिक दावेदारी: पहलवान सुशील और नरसिंह की जंग पहुंची हाईकोर्ट

सुशील ने महासंघ के दावों के जवाब में आरोप लगाया कि उन्हें ओलंपिक में 74 किलोग्राम भार वर्ग में भारत का प्रतिनिधित्व करने का मौका देने के लिये ट्रायल पर इसलिए विचार नहीं किया जा रहा है क्योंकि उन्होंने प्रो कुश्ती लीग में हिस्सा नहीं लिया था.

कुश्ती महासंघ ने साफ किया कि इस वर्ग में देश का प्रतिनिधित्व करने के लिये नरसिंह सर्वश्रेष्ठ पहलवान हैं. उनका चयन निष्पक्ष और पारदर्शी तरीके से किया गया है.

कुश्ती महासंघ ने कहा कि नरसिंह इस भार वर्ग में बेहतर प्रतिभागी हैं, क्योंकि वे 2006 से इस भार वर्ग में पूरे दबदबे के साथ खेल रहा है, जबकि सुशील जनवरी 2014 तक 66 किग्रा भार वर्ग में खेलते रहे हैं.

आपको बता दें कि नरसिंह के अलावा अब तक तीन पहलवान ओलंपिक में कोटा हासिल कर चुके हैं. इसमें 57 किलोग्राम में संदीप तोमर और योगेश्वर दत्त ने 65 किलोग्राम भार वर्ग में फ्री स्टाइल शैली में टिकट कटाया है.

इनके अलावा एक अन्य पहलवान हरदीप सिंह ने ग्रीको रोमन शैली में 98 किलोग्राम भार वर्ग में ओलंपिक टिकट हासिल किया है.

First published: 29 May 2016, 9:44 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी