Home » खेल » Naveen Patnaik requests to PM Modi to notify hockey as national game of India
 

नवीन पटनायक ने पीएम मोदी को लिखा लेटर, हॉकी के उज्जवल भविष्य को लेकर लें ये फैसला

कैच ब्यूरो | Updated on: 20 June 2018, 17:54 IST

ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने पीएम मोदी से आधिकारिक तौर पर हॉकी को भारत के राष्ट्रीय खेल के रूप में पहचान  दिलाने का अनुरोध किया है. बता दें कि इस साल नवंबर में हॉकी विश्व कप होने वाली है. जिसकी मेजबानी करने के लिए ओडिशा तैयार है. सीएम पटनायक ने कहा इस दौरान तैयारियों की समीक्षा करते वक्त मुझे यह जानकर आश्चर्य हुआ कि राष्ट्रीय खेल के रुप में हॉकी लोकप्रिय है. 

 

पटनायक ने अपने पत्र में लिखा है कि जैसा कि आप जानते हैं सर, अगला हॉकी विश्व कप ओडिशा में नवंबर को होने वाला है. इस दौरान तैयारी की समीक्षा करते समय, मुझे यह जानकर आश्चर्य हुआ कि राष्ट्रीय खेल - हॉकी के रूप में लोकप्रिय रूप से जाना जाता है, वास्तव में हमारे राष्ट्रीय खेल के रूप में कभी भी अधिसूचित नहीं किया गया है.  बता दें कि यह पत्र पीटीआई के पास है.

उन्होंने इस पत्र में आगे कहा कि देश के राष्ट्रीय खेल के रूप में हॉकी को मान्यता देना खिलाड़ियों को सच्ची ट्रिब्यूट होगी. इसलिए मुझे यकीन है कि आप हमारे देश के करोड़ों प्यार करने वाले प्रशंसकों से सहमत होंगे  कि हॉकी वास्तव में हमारे राष्ट्रीय खेल के रूप में अधिसूचित होने का हकदार है. पटनायक ने कहा, यह महान हॉकी खिलाड़ियों को एक उचित श्रद्धांजलि होगी जिन्होंने हमारे देश को गौरव बढ़ाया है.

बता दें कि यह बात तब सामने आयी थी जब कुछ साल पहले केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय ने दस साल की एक लड़की ऐश्वर्या पराशर के आरटीआई जवाब दिया था.

इसके अलावा उन्होंने कहा कि हम लोग स्टेडियम में चल रहे बुनियादी ढांचे के काम से काफी खुश और संतुष्ट हैं. हॉकी ग्राउंड में नए टर्फ लगाए जाने के अलावा, हमने अभ्यास और मुख्य पिच दोनों की फ्लूड लाइट्सस को भी अपग्रेड किया है. हमने सड़कों को चौड़ा करके, सुरक्षा बिंदु से एक नए द्वार और स्थायी सीसीटीवी कैमरे लगा कर पूरे स्टेडियम में फेस-लिफ्ट दे रहे हैं. हमारा लक्ष्य हॉकी पुरुषों के विश्व कप भुवनेश्वर 2018 के माध्यम से विश्व स्तर पर ओडिशा की छवि को पार करना है. "

First published: 20 June 2018, 17:49 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी