Home » खेल » Nicknames of Indian & World cricketers
 

आपको पता है इन क्रिकेटरों के निकनेम क्यों पड़े?

कैच ब्यूरो | Updated on: 16 February 2016, 22:44 IST

बीते कुछ दशकों में क्रिकेट ने भारत सहित विश्व में अपनी लोकप्रियता में खासा इजाफा किया है. इसी लोकप्रियता ने विश्व के तमाम क्रिकेट खिलाड़ियों को उनके निकनेम से पुकारा है.

हम इनमें से कुछ क्रिकेटरों के बारे में उनके निकनेम के साथ परिचय करा रहे हैं. 

माइकल होल्डिंग- मौत की सनसनी

Michael Holding

वेस्टइंडीज के इस तेज गेंदबाज को चुपचाप गेंदबाजी करने के लिए जाना जाता है. माइकल को अंपायर डिकी बर्ड ने यह नाम तब दिया था जब क्रीज के पास खड़े रहने के बावजूद उन्हें माइकल होल्डिंग के दौड़ के आने की भनक तक नहीं लगती है.

ग्लैन मैक्ग्रा- कबूतर

McGrath

ऑस्ट्रेलिया के इस तेज गेंदबाज को नीक नेम कबूतर करियर के शुरूआती दौर में ही मिल गया था. उनकी टीम के सदस्यों ने बालिंग के दौरान उनके लंबे पतले टांगों को देखते हुए पिजन का उपनाम दिया था.

अनिल कुंबले- जंबो

anil kumble

भारत के दिग्गज लेग स्पिनर अनिल कुंबले को यह नाम हरफनमौला नवजोत सिंह सिद्धू ने दिया था. कुंबले की गेंदें जिस तरह से अचानक बाउंस करती थीं, उससे अच्छे-अच्छे बल्लेबाज भी चकमा खा जाते थे.

स्टीव वॉ- टुग्गा

Steve Waugh

स्टीव वॉ को खेल के मैदान पर मुश्किल परिस्थितियों में भी मुस्कुराने के लिए जाना जाता था. ऑस्ट्रेलिया के इस धाकड़ बल्लेबाज को क्रिकेट फिल्ड पर शांत और धैर्य से मुश्किलों का सामना करने के लिए उनके साथियों द्वारा दिया गया यह उपनाम. 

राहुल द्रविड़ - द वॉल

rahul dravid

राहुल द्रविड़ को टीम इंडिया की दीवार माना जाता था, क्योंकि जब भी टीम संकट में होती थी द्रविड़ एक छोर थामे रखते थे. इसी वजह से उनका नाम 'द वॉल' पड़ गया. द्रविड़ का एक दूसरा निकनेम जैमी इसलिए पड़ा क्योंकि उनके पिता जैम बनाने वाली कंपनी 'किसान' में काम करते थे.

विराट कोहली- चीकू

virat kohli

विराट कोहली को प्यार से चीकू कहकर बुलाया जाता है. कप्तान धोनी और टीम के दूसरे खिलाड़ी भी उन्हें प्यार से चीकू ही बुलाते हैं. विराट कोहली का यह निकनेम दिल्ली के कोच अजीत चौधरी ने दिया था. उन्होंने विराट का यह नाम उनकी हेयर स्टाइल को देखते हुए रखा था.

महेंद्र सिंह धोनी- कैप्टन कूल

dhoni

मैदान पर हमेशा शांतचित रहने वाले टीम इंडिया के वनडे और टी-20 कैप्टन धोनी को विषम परिस्थितियों में धैर्य बनाए रखने के लिए क्रिकेट विशेषज्ञों और फैन्स ने उन्हें कैप्टन कूल कहना शुरू कर दिया, जो उनके नाम के आगे अब लगभग हमेशा ही नजर में आता है.

शाहिद आफरीदी- बूम बूम

afridi

पाकिस्तान के तुफानी ऑलराउंडर शाहिद आफरीदी गेंद की बेरहमी से धुनाई के कारण बूम-बूम कहे जाते हैं. वो जब भी क्रीज पर आते हैं तो या को खुद जल्दी पैवेलियन लौट जाते हैं या फिर अपने बल्ले से गेंद को पैवेलियन का रास्ता दिखा देते हैं. बैटिंग की अपनी आक्रामक शैली के कारण बूम-बूम खासे चर्चा में रहते हैं.

First published: 16 February 2016, 22:44 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी