Home » खेल » Pakistan former Hockey Player Mansoor Ahmed appealed to Indian government and Sushma Swaraj to grant him a Medical Visa
 

पाकिस्तान के पूर्व हॉकी खिलाड़ी ने भारत से लगाई मदद की गुहार, कहा- जिंदगीभर एहसानमंद रहूंगा

कैच ब्यूरो | Updated on: 24 April 2018, 9:56 IST

पाकिस्तान के पूर्व दिग्गज हॉकी खिलाड़ी ने मंसूर अहमद भारत सरकार से मेडिकल वीजा देने की गुहार लगाई है. मंसूर अहमद ने कहा है कि अगर भारत सरकार उनको मेडिकल वीजा देती है तो वो जिंदगीभर भारत के एहसानमंद रहेंगे. उन्होंने भारत की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से मदद करने की अपील करते हुए मेडिकल वीजा देने की मांग की है.

आजतक के स्पोर्ट्स एंकर विक्रांत गुप्ता ने मंसूर अहमद का एक वीडियो ट्वीट किया है. इस  वीडियो में मंसूर अहमद ने भारत सरकार और विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से भावुक अपील की है. मंसूर अली ने अपील करते हुए कहा है कि उन्होंने भारत के खिलाफ हॉकी मैच खेलने के दौरान कई बार भारतीयों के दिल तोड़े हैं. भारत के खिलाफ पाकिस्तान को कई हॉकी मैच में जीत दिलाई है. लेकिन वो खेल की बात थी.

 

आज मुझको अपने दिल की सर्जरी करानी है. इसके लिए मुझे भारत सरकार की मदद की जरूरत है. उन्होंने कहा कि मेडिकल वीजा उनकी जिंदगी बचा सकता है. मानवता सबसे ऊपर है.

आज दोनों देशों के संबध खराब है. लेकिन पहले भी खेल के जरिए दोनों देशों के संबंधों को सुधारने में मदद मिली है. इस बार भी यही होना चाहिए. मंसूर अहमद ने कहा कि अगर भारत सरकार उनको मेडिकल वीजा दे देती है तो वो जिंदगीभर भारत के एहसानमंद रहेंगे.

आपको बता दें कि मंसूर अहमद पाकिस्तान के पूर्व दिग्गज हॉकी खिलाड़ी हैं. उन्होंने ओलंपिक में पाकिस्तान की हॉकी टीम का तीन बार प्रतिनिधित्व किया है. वे 1989 में इंदिरा गांधी कप जीतने वाली पाकिस्तान टीम के सदस्य भी रह चुके हैं.

मंसूर अहमद ने पाकिस्तान के लिए 338 अतंरराष्ट्रीय मैच खेले हैं. वर्तमान में मंसूर बीमार हैं. उनके दिल ने काम करना बंद कर दिया है. उनको तत्काल हार्ट ट्रांसप्लांट कराने की जरूरत है. वह भारत आकर अपना इलाज कराना चाहते हैं. जिसके लिए उनको मेडिकल वीजा की जरूरत है.

First published: 23 April 2018, 22:21 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी